Tuesday, July 16, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

उत्तराखंड के कई इलाकों में भारी बारिश का कहर जारी, लामबगड़ में पहाड़ टूटने से बद्रीनाथ हाईवे बंद 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तराखंड के कई इलाकों में भारी बारिश का कहर जारी, लामबगड़ में पहाड़ टूटने से बद्रीनाथ हाईवे बंद 

देहरादून। उत्तराखंड के कई इलाकों में हो रही तेज बारिश का असर आम जनजीवन पर पड़ने लगा है। प्रदेश के कई इलाकों में पहाड़ों से गिर रहे मलबे के चलते आम राहगीरों की मुश्किलें बढ़ने के साथ ही चारधाम की यात्रा पर जाने वाले श्रद्धालुओं की भी मुसीबतें बढ़ गई हैं। बता दें कि रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड हाईवे पर पहाड़ों से मलबा गिरने से रास्ते बंद हो गए हैं और केदारनाथ यात्रा पर जाने वालों की परेशानियां बढ़ गई हैं। हरिद्वार और ऋषिकेश में गंगा अपने पूरे उफान पर है जिसने स्थानीय लोगों के साथ ही व्यापार को भी काफी नुकसान पहुंचा है।

गौरतलब है कि प्रदेश में कई दिनों से लगातार तेज बारिश हो रही है। पिथौरागढ़, बागेश्वर, चमोली और उत्तरकाशी के कई इलाकों में बारिश का कहर जारी है। पिछले दिनों हल्द्वानी में भी हुई तेज बारिश के बाद नाले में आए उफान की चपेट में आने से कई गाड़ियां तिनके की तरह पानी में बह गए। बताया जा रहा है कि मौसम विभाग ने अभी कई और दिनों तक राज्य में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। 

ये भी पढ़ें - आंदोलन कर रहे शिक्षकों पर हाईकोर्ट हुआ सख्त, सरकार से किया जवाब तलब


बता दें कि चमोली जिले में लामबगड़ के पास पहाड़ का एक बड़ा टुकड़ा टूटकर सड़क पर गिर गया है। इससे बद्रीनाथ हाईवे पूरी तरह से बंद हो गया है और सड़क पर बड़ी संख्या में वाहनों की कतार लग गई है। सीमा सड़क संगठन और प्रशासन जेसीबी की मदद से रास्तों को खोलने के काम मंे मुस्तैदी से जुटा हुआ है। तीर्थनगरी हरिद्वार और ऋषिकेश में भी गंगा नदी पूरे उफान पर आ गई है। यहां गौर करने वाली बात है कि सावन महीने में बड़ी संख्या में कांवडिए हरिद्वार आते हैं ऐसे में उन्हें हिदायत दी गई है कि वे गंगा के पानी में उतरने से पहले पूरी सावधानी बरतें। वहीं सरकार की ओर से आपदा प्रबंधन और सुरक्षा के मद्देनजर सभी सरकारी कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं। 

Todays Beets: