Monday, October 26, 2020

Breaking News

   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||   लक्ष्मी विलास होटल केस: पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी हुए सीबीआई कोर्ट में पेश     ||   पश्चिम बंगाल: CM ममता बनर्जी ने अलापन बंद्योपाध्याय को बनाया मुख्य सचिव     ||   काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद मामले में 3 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई     ||   इस्तीफे पर बोलीं हरसिमरत कौर- मुझे कुछ हासिल नहीं हुआ, लेकिन किसानों के मुद्दों को एक मंच मिल गया     ||   ईडी के अनुरोध के बाद चेतन और नितिन संदेसरा भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित     ||   रक्षा अधिग्रहण परिषद ने विभिन्न हथियारों और उपकरणों के लिए 2290 करोड़ रुपये की मंजूरी दी     ||

केंद्र ने उत्तराखंड को 50 साल के लिए दिया 450 करोड़ का ब्याजमुक्त लोन , तय समयसीमा में खर्च करनी होगी रकम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
केंद्र ने उत्तराखंड को 50 साल के लिए दिया 450 करोड़ का ब्याजमुक्त लोन , तय समयसीमा में खर्च करनी होगी रकम

देहरादून । केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को उत्तराखंड को 50 साल के लिए ब्याज मुक्त 450 करोड़ रुपये का लोन देने का ऐलान किया है । देश की अर्थव्यवस्था में तेजी लाने के लिए केंद्र की ओर से ऐलान किया गया कि देश के सभी राज्यों को 12 हजार करोड़ का ब्याज मुक्त लोन दिया जाएगा। इस फंड के पहले हिस्से के रूप में 2500 करोड़ रुपये जारी किए जा रहे हैं , जिसमें से 1600 करोड़ रुपये नार्थ ईस्ट के 8 राज्यों को दिए जाएंगे , जबकि उत्तराखंड समेत दूसरे पहाड़ी राज्य हिमाचल दोनों को 450-450 यानी 900 करोड़ दिए जाएंगे। हालांकि इस रकम को खर्च करने के लिए भी केंद्र सरकार ने समयसीमा निर्धारित की है । इस सबके बाद संभावना जताई जा रही है कि राज्य में फंड की कमी से लटके कामों में अब तेजी नजर आएगी ।

बता दें कि उत्तराखंड में फंड की कमी से कई योजनाएं अधर में लटकी हैं । मौजूदा हालात में जब राज्य सरकार के राजस्व में भारी कमी आई है , ऐसे में केंद्र की ओर से 450 करोड़ का ब्याजमुक्त लोन दिए जाने का ऐलान किया गया है । राज्य सरकारों को यह रकम चुकाने के लिए 50 साल का समय मिलेगा । 


बहरहाल, सरकार ने इस राशि को जारी करने के साथ ही इसके साथ कुछ शर्तों को भी जोड़ा है । मसलन, केंद्र सरकार 50 साल के लिए जो कर्ज दे रही है, उसमें पहला और दूसरा हिस्सा ब्याज मुक्त होगा । लेकिन इस रकम को 31 मार्च 2021 तक खर्च करना होगा ।  इसका 50 फीसदी हिस्सा पहले दिया जाएगा । इस रकम के इस्तेमाल होने के बाद ही शेष 50 फीसदी रकम राज्य सरकारों को दी जाएगी । मतलब , उत्तराखंड सरकार को 225 करोड़ रुपये पहले मिल जाएंगे और इस राशि का इस्तेमाल होने के बाद शेष 225 करोड़ रुपये मिलेंगे । 

Todays Beets: