Tuesday, October 26, 2021

Breaking News

   52वां इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया 20 से 28 नवंबर तक गोवा में होगा     ||   पीएम मोदी की अपील- मेड इन इंडिया सामान खरीदने पर जोर दें, इसके लिए सब प्रयास करें     ||   भारत में 100 करोड़ वैक्सीनेशन पर बिल गेट्स ने दी पीएम मोदी को बधाई     ||   सेना की 39 महिला अफसरों की बड़ी जीत, मिलेगा स्थायी कमीशन; SC ने दिया आदेश     ||   बिहार में महागठबंधन टूटा, कांग्रेस का ऐलान 2024 के आम चुनाव में सभी 40 सीटों पर लड़ेगी पार्टी     ||   तेजस्वी यादव बोले- पेड़, जानवरों की गिनती हो सकती है तो फिर जाति आधारित जनगणना क्यों नहीं     ||   तालिबान की अमेरिका को धमकी, 31 अगस्त के बाद भी रही सेना तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहे    ||   कर्नाटक CM से स्थानीय BJP विधायक की मांग- कोरोना के चलते किसी भी हिंदू पर्व पर ना लगे बंदिशें    ||   तेजप्रताप की नाराजगी के सवाल पर बोले तेजस्वी- राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर ही देंगे जवाब    ||   अंडमान एंड निकोबार के पोर्ट ब्लेयर में महसूस किए गए 4.3 तीव्रता के भूकंप     ||

चार धाम यात्रा पर लगी रोक हटी , हाईकोर्ट ने हर धाम में प्रतिदिन जाने वाले श्रद्धालुओं की संख्या तय की

अंग्वाल न्यूज डेस्क
चार धाम यात्रा पर लगी रोक हटी , हाईकोर्ट ने हर धाम में प्रतिदिन जाने वाले श्रद्धालुओं की संख्या तय की

नैनीताल । देवभूमि उत्तराखंड में स्थित चार धाम की यात्रा पर लगी रोक को हाईकोर्ट ने हटा दिया है । इस दौरान कोर्ट ने चार धाम यात्रा पर जाने वाले लोगों की संख्या को प्रतिदिन के हिसाब से तय कर दिया है । कोर्ट के आदेशानुसार , अब बद्रीनाथ में प्रतिदिन 1200 लोग , तो केदारनाथ में 800 श्रद्धालुओं को , गंगोत्री में 600 तो यमुनोत्री में 400 श्रद्धालुओं को धाम के दर्शन करने की इजाजत दी गई है । इसके लिए प्रशासन को एक पूरा प्लान बनाने के लिए कहा गया है । 

विदित हो कि पिछले दिनों कोरोना काल के चलते उत्तराखंड के चारों धाम की यात्रा पर रोक लगती और हटती रही थी । लेकिन कोरोना की तीसरी लहर को ध्यान में रखते हुए नई सरकार ने चार धाम यात्रा पर रोक लगा दी थी । सरकार का कहना था कि दूसरे राज्यों से चार धाम की यात्रा के लिए आने वाले लोगों से कोरोना के फैलने का खतरा था । 


बहरहाल , कोरोना की तीसरी लहर को लेकर जारी अटकलों के बीच नैनीताल हाईकोर्ट ने चार धाम की यात्रा पर लगी रोक को हटाने का ऐलान कर दिया है । कोर्ट ने इस दौरान साफ कर दिया है कि प्रतिदिन अब कुछ सौ लोग की धाम के दर्शन कर सकेंगे । इसके लिए प्रशासन को एक रणनीति बनानी होगी और उसकी अमल में लाना होगा । 

Todays Beets: