Thursday, June 27, 2019

Breaking News

   आईबी के निदेशक होंगे 1984 बैच के आईपीएस अरविंद कुमार, दो साल का होगा कार्यकाल    ||   नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत का कार्यकाल सरकार ने दो साल बढ़ाया    ||   BJP में शामिल हुए INLD के राज्यसभा सांसद राम कुमार कश्यप और केरल के पूर्व CPM सांसद अब्दुल्ला कुट्टी    ||   टीम इंडिया की जर्सी पर विवाद के बीच आईसीसी ने दी सफाई, इंग्लैंड की जर्सी भी नीली इसलिए बदला रंग    ||   PIL की सुनवाई के लिए SC ने जारी किया नया रोस्टर, CJI समेत पांच वरिष्ठ जज करेंगे सुनवाई    ||   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||

कांग्रेस ने NH 74 घोटाले को लेकर सीएम त्रिवेंद्र रावत पर हल्ला बोला , कहा- CBI जांच कराई नहीं कोड़ियों के दाम खरीदी बेशकीमती जमीन

अंग्वाल संवाददाता
कांग्रेस ने NH 74 घोटाले को लेकर सीएम त्रिवेंद्र रावत पर हल्ला बोला , कहा- CBI जांच कराई नहीं कोड़ियों के दाम खरीदी बेशकीमती जमीन

देहरादून । उत्तराखंड के बहुचर्चित एनएच74 घोटाले को लेकर अब विपक्षी दल कांग्रेस ने भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए पूछा कि आखिर इस घोटाले की सीबीआई जांच क्यों नहीं करवाई गई । कांग्रेस प्रदेश कार्यालय में प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह व सदन के उप नेता करन मेहरा ने पत्रकार वार्ता में राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पर आरोप लगाते हुए कहा कि आखिर सीएम इस मामले में किसे बचाने की कोशिश कर रहे हैं । कांग्रेस ने आरोप लगाया कि जब खुद सीएम ने इस घोटाले की सीबीआई जांच करवाने की बात कही तो आखिर किसे लाभ पहुंचाने और किसे बचाने के लिए सीएम ने सीबीआई जांच नहीं करवाई । इस मामले में कांग्रेस ने सीएम के इस्तीफे की मांग की। साथ ही मामले की सीबीआई या फिर हाइकोर्ट के सिटिंग जज से जांच करवाने की मांग की ।

उत्तराखंड के सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती और उनके प्रमोशन के लिए बना टाइम टेबल

बता दें कि इस घोटाले को लेकर प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह व सदन के उप नेता करन मेहरा ने सीएम को इस मामले में घेरा । उन्होंने कहा सीएम ने कहा था कि इस घोटाले की सीबीआई जांच करवाएंगे, लेकिन अभी तक नहीं कार्रवाई शुरू नहीं हुई। उन्होंने सीएम को आड़े हाथों लेते हुए कहा - सीएम खुद बेशकीमती जमीन को औने पौने दामों में खरीद में रहे हैं।

इस दौरान करण मेहरा ने कहा कि सीएम ने सूर्यधार स्थित झील के आस-पास 16 बीघा जमीन खरीदी है। इन जमीनों के पार्टनर संजय गुप्ता सीएम के करीबी हैं। सीएम सरकारी खजाने का निजी फायदे के लिए उपयोग कर रहे हैं। वहीं जीरो टॉलरेंस की सरकार पर मेहरा ने भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगाए।


देवभूमि की दमदार पुलिस कप्तान , उपलब्धियों से भरे काम के रिकॉर्ड सुनकर रह जाएंगे दंग

इस दौरान सीएम के करीबी संजय गुप्ता और आयुष गौड़ की ऑडियो-वीडियो क्लीपिंग भी उजागर की गई। आरोप लगाया कि 70 करोड़ के सूर्यधार झील प्रोजेक्ट के पीछे सीएम और उनके चहेतों को लाभ देने की मंशा है।

 

Todays Beets: