Tuesday, June 25, 2019

Breaking News

   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||

मानसून की विदाई ने स्वास्थ्य विभाग की बढ़ाई चिंता, राज्य में डेंगू के मरीजों की संख्या 72 पहुंची

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मानसून की विदाई ने स्वास्थ्य विभाग की बढ़ाई चिंता, राज्य में डेंगू के मरीजों की संख्या 72 पहुंची

देहरादून। बदलते मौसम और मानसून की विदाई ने प्रदेश में स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा दिया है। प्रदेश में दिनों दिन डेंगू के मरीजों में इजाफा होता जा रहा है। गुरुवार को भी 22 मरीजों में इसकी पुष्टि होने से स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी सकते में हैं। बता दें कि राज्य में डेंगू के मरीजों की संख्या बढ़कर 72 के पार कर चुकी है। टिहरी में इस बीमारी 1 व्यक्ति की मौत भी हो गई है। डेंगू के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने सरकारी व गैर सरकारी स्कूलों के लिए पहले ही एडवाइजरी जारी कर दी थी। स्कूली बच्चों को फुल बाजू की शर्ट व पैंट पहनकर स्कूल आने को कहा गया था लेकिन स्कूल इस पर अमल नहीं कर रहे हैं। 

गौरतलब है कि बदलते मौसम के बीच देहरादून में 7, हरिद्वार में 3 और टिहरी में 10 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है। वहीं, ऊधमसिंहनगर में भी 2 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हुई है। शुरुआत में मरीजों की संख्या कम होने से स्वास्थ्य विभाग थोड़ा सुस्त हो गया था लेकिन अब अचानक बढ़ती संख्या से विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। स्वास्थ्य अधिकारी का कहना है कि राज्य में कभी बारिश और कभी धूप निकलने की वजह से मच्छरों के पनपने की संभावना ज्यादा हो जाती हैं। 

ये भी पढ़ें - सौंग नदी में अचानक आई बाढ़, गौहरीमाफी गांव के सैकड़ों परिवार फंसे, बचाव कार्य जारी

आपको बता दें कि राज्य में बारिश के शुरू होने पर ही स्वास्थ्य विभाग की ओर से स्कूलों के लिए एडवाइजरी जारी करते हुए पूरी बाजू की शर्ट और पैंट पहनने को कहा गया था लेकिन स्कूलों के द्वारा इस पर अमल नहीं किया जा रहा है। ऋषिकेश से भी डेंगू के मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। 


 

 

Todays Beets: