Friday, September 20, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

उत्तरकाशी आपदा  : राहत सामाग्री लेकर जा रहा एक और हेलीकॉप्टर क्रैश होने से बचा , करवाई इमरजेंसी लैंडिंग 

अंग्वाल संवाददाता
उत्तरकाशी आपदा  : राहत सामाग्री लेकर जा रहा एक और हेलीकॉप्टर क्रैश होने से बचा , करवाई इमरजेंसी लैंडिंग 

उत्तरकाशी । उत्तराखंड के उत्तरकाशी में पिछले दिनों आई आपदा के बाद जारी राहत कार्य काफी जोखिम भरे हो गए हैं। पिछले दिनों राहत सामाग्री ले जा रहा हेरीटेज एविएशन कंपनी का हेलीकॉप्टर क्रैश हो गया था , जिसके बाद शुक्रवार को ऐसा ही एक हादसा होने से बच गया । दो दिन पहले हुई दुर्घटना के बाद हेलिकॉप्टर से राहत कार्य रोक दिया गया था लेकिन शुक्रवार को हेलीकॉप्टर के जरिए फिर से राहत सामग्री प्रभावित गांव तक पहुंचाने का काम शुरू हुआ , लेकिन दो राउंड में सफलतापूर्वक राहत सामग्री पहुंचाने के बाद दोपहर करीब 2:15 बजे एक बार फिर नगवाड़ा टिकोची के पास ट्रॉली के तार हेलिकॉप्टर के सामने आने पर पायलट ने हेलीकॉप्टर की इमरजेंसी लैंडिंग करा दी। हादसे में पायलट एवं इंजीनियर सुरक्षित हैं। इंजीनियर को हल्की चोटें आई हैं। हेलीकॉप्टर भी क्षतिग्रस्त हुआ है। इमरजेंसी लैंडिंग के तत्काल बाद रेस्क्यू टीमें मौके पर पहुंच गई। इस घटना के बाद घायल पायलट सुशांत जीना , और इंजीनियर अजित सिंह को हेलीकॉप्टर के जरिए देहरादून ले जाया जाएगा।

विदित हो कि आराकोट क्षेत्र के गांवों में बादल फटने से मची तबाही में इन गांवों की सड़क, पुल एवं संपर्क मार्ग तबाह हो चुके हैं। इस कारण सड़क मार्ग से इन गांवों तक राहत सामग्री नहीं पहुंच पा रही थी। सरकार द्वारा यहां हेलीकॉप्टरों के माध्यम से राहत सामग्री पहुंचाई जा रही थी। आराकोट और मोरी में बेस बनाकर राहत सामग्री भिजवाई जा रही थी।


इसी क्रम में दो दिन पहले राहत सामाग्री लेकर गांवों की ओर जा रहा है एक हेलिकॉप्टर मोल्डी गांव के पास तार से टकराकर क्रैश हो गया था । इस घटना के बाद उसमें सवार तीन लोगों की मौत हो गई थी । इसके बाद आज फिर से राहत सामाग्री बांटने के लिए हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल किया गया , जिसमें एक ओर हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त होने से बच गया।  

Todays Beets: