Friday, September 20, 2019

Breaking News

   Parle में छंटनी का संकट: मयंक शाह बोले- सरकार से अहसान नहीं मांग रहे     ||   ILFS लोन मामले में MNS प्रमुख राज ठाकरे से ED की पूछताछ    ||   दिल्ली: प्रगति मैदान के पास निर्माणाधीन इमारत में लगी आग    ||   मध्य प्रदेश: टेरर फंडिंग मामले में 5 हिरासत में, जांच जारी     ||   जिन्होंने 72 हजार देने का वादा किया था, वे 72 सीटें भी नहीं जीत पाए : मोदी     ||   प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 अगस्त को दिन में 11 बजे करेंगे मन की बात     ||   कोलकाता के पूर्व मेयर और TMC विधायक शोभन चटर्जी, बैसाखी बनर्जी BJP में शामिल     ||   गुजरात में बड़ा हमला कर सकते हैं आतंकी, सुरक्षा एजेंसियों का राज्य पुलिस को अलर्ट     ||   अयोध्या केस: मध्यस्थता की कोशिश खत्म, कल सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई     ||   पोंजी घोटाला: 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया आरोपी मंसूर खान     ||

उत्तराखंड - राज्य के 6 जिलों में अगले 2 दिन भारी बारिश का अलर्ट , भूस्खलन और पहाड़ी में दरार आने से हाईव पर यातायात प्रभावित

अंग्वाल संवाददाता
उत्तराखंड - राज्य के 6 जिलों में अगले 2 दिन भारी बारिश का अलर्ट , भूस्खलन और पहाड़ी में दरार आने से हाईव पर यातायात प्रभावित

देहरादून । मौसम विभाग ने एक बार फिर अगले दो दिन उत्तराखंड के 6 जिलों में भारी बारिश का पूर्वानुमान जारी किया है । मौसम केंद्र की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार 24 और 25 जुलाई को दून के साथ नैनीताल, अल्मोड़ा , चंपावत, पिथौरागढ़, ऊधमसिंह नगर और पौड़ी जिले में भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है। मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि आज भी ज्यादातर स्थानों पर बादल छाये रहने का अनुमान है। कुछ इलाकों में गरज और चमक के साथ बौछारें भी पड़ सकती है। राज्य के छह जिलों में भारी बारिश होने की संभावना के चलते अलर्ट रहने को कहा गया है। इस सब के बीच बारिश के चलते कई इलाकों में हो रहे भूस्खलन ने हाईवे पर लोगों के आने जाने में खासी परेशानियां खड़ी कर दी है । राज्य में कई इलाकों में हाईवे को पहाड़ी दरकने और भूस्खलन के चलते मलबा सड़क पर आ जाने के चलते बंद करना पड़ गया है ।

पौड़ी : चोरकंडी गांव में शख्स ने अपने दो दोस्तों को जिंदा जलाया मौत के घाट उतारा , पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया

डीडीहाट दूनाकोट सड़क फिर बंद

जहां मौसम केंद्र ने राज्य में अगले दो दिन फिर से भारी बारिश का पूर्वानुमान जारी किया है , वहीं पिछले दिनों हुई बारिश के बाद पिथौरागढ़ जिले में पहाड़ी दरकने से डीडीहाट-दूनाकोट सड़क फिर से बंद हो गई है। ग्रामीण बोल्डरों के ऊपर से जान जोखिम में डालकर आवागमन कर रहे हैं। लोनिवि की जेसीबी बोल्डर और मलबा हटाने में जुटी है। 4 दिन पहले भी डीडीहाट-दूनाकोट सड़क के 12 किमी हिस्से में पहाड़ी दरक गई थी। 60 घंटे बाद बोल्डर और मलबा हटाकर सड़क को खोला गया था। इसी क्रम में टनकपुर-चंपावत मार्ग सुबह पांच बजे से साढ़े तीन घंटे बंद रहा। बस्तिया से ऊपर टिपन टॉप और अमरू बैंड के पास पर मलबा आने से मार्ग बंद हो गया। 


श्रीनगर (गढ़वाल) के सुमाड़ी गांव में स्थापित होगा उत्तराखंड के NIT का स्थायी परिसर , युद्धस्तर पर होगा निर्माण - रमेश पोखरियाल

सड़क मार्ग से आने जाने वालों की आफत

इसी क्रम में इन दिनों राज्य में सड़क मार्ग से आने जाने वालों की आफत आई हुई है । कोटद्वार नगर और आसपास के पर्वतीय इलाकों में सोमवार तड़के हुई मूसलाधार बारिश से कोटद्वार-दुगड्डा के मध्य बरसाती गदेरा उफान पर रहा, जिससे करीब आधे घंटे तक राजमार्ग पर यातायात बाधित रहा। भारी बारिश भाबर से लछमपुर में एक गोशाला क्षतिग्रस्त हो गई। गनीमत यह रही कि इस दौरान कोई पशु हानि नहीं हुई।  

उत्तरकाशी स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट से शर्मसार, 3 माह में जन्मे 216 नवजात में से एक भी बच्ची नहीं , व्यापक भ्रूण हत्या की आशंका 

Todays Beets: