Wednesday, June 26, 2019

Breaking News

   आईबी के निदेशक होंगे 1984 बैच के आईपीएस अरविंद कुमार, दो साल का होगा कार्यकाल    ||   नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत का कार्यकाल सरकार ने दो साल बढ़ाया    ||   BJP में शामिल हुए INLD के राज्यसभा सांसद राम कुमार कश्यप और केरल के पूर्व CPM सांसद अब्दुल्ला कुट्टी    ||   टीम इंडिया की जर्सी पर विवाद के बीच आईसीसी ने दी सफाई, इंग्लैंड की जर्सी भी नीली इसलिए बदला रंग    ||   PIL की सुनवाई के लिए SC ने जारी किया नया रोस्टर, CJI समेत पांच वरिष्ठ जज करेंगे सुनवाई    ||   अमित शाह बोले - साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोसडे पर दिए बयान से भाजपा का सरोकार नहीं    ||   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||

पुलिस अधिकारी भी फंसे Me Too में, महिलाकर्मी ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पुलिस अधिकारी भी फंसे Me Too में, महिलाकर्मी ने लगाया यौन उत्पीड़न का आरोप

देहरादून। लोगों की सुरक्षा करने वाले पुलिस महकमे में अपने ही सुरक्षित नहीं है। हरिद्वार के  सीओ सिटी परीक्षित कुमार पर महिला कांस्टेबल ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। मी टू प्रकरण के तहत लगाए गए आरोप के बाद इसे गंभीरता से लेते हुए पुलिस मुख्यालय ने परीक्षित कुमार को हटाकर अभिसूचना मुख्यालय से संबद्ध कर दिया है। इसके साथ ही एसपी सिटी ममता वोहरा की अगुवाई में मामले की जांच के लिए टीम गठित कर दी गई है। महिलाकर्मी ने आरोप लगाया कि सीओ ने सरकारी वाहन में उसके साथ अश्लील हरकत की। 

गौरतलब है कि हरिद्वार शहर क्षेत्र में तैनात एक महिला पुलिसकर्मी ने 29 दिसंबर को तत्कालीन एसएसपी रिधिम अग्रवाल से मिलकर सीओ सिटी परीक्षित कुमार पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। महिला पुलिसकर्मी ने आरोप लगाया कि सीओ ने उसे 28 दिसंबर की शाम को फोनकर घर से हाईवे पर बुलाया और अपने साथ सरकारी गाड़ी में बैठा लिया। महिला कर्मी ने आरोप लगाया कि अधिकारी ने उसके साथ अश्लील हरकत की। 

ये भी पढ़ें- वीकेंड पर बर्फबारी का मजा नहीं ले पाएंगे सैलानी, आज और कल प्रदेश में भारी बारिश और बर्फबारी क...

यहां बता दें कि महिलाकर्मी ने बताया कि कुछ दूरी के बाद सीओ ने उसे गाड़ी से उतार दिया। महिला के आरोप के बाद तत्कालीन एसएसपी रिधिम अग्रवाल ने मामले की जांच के लिए एसपी सिटी ममता बोहरा के नेतृत्व में 4 सदस्यीय टीम गठित कर दी है। आपको बता दें कि मामले की जानकारी मिलने के बाद देर शाम पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने बताया कि गंभीर आरोप के चलते सीओ सिटी परीक्षित कुमार को हरिद्वार से हटाकर अभिसूचना मुख्यालय में संबद्ध कर दिया गया है, ताकि निष्पक्ष जांच कराई जा सके।


गौर करने वाली बात है कि परीक्षित कुमार ने अपने ऊपर लगए गए आरोपों को बेबुनियाद बताया है। बता दें कि परीक्षित कुमार की पदोन्नति अपर अधीक्षक के पद पर हो गई है लेकिन उन्हें तैनाती नहीं मिली है। 

 

Todays Beets: