Monday, March 30, 2020

Breaking News

   भोपाल की बडी झील में पलटी आईपीएस अधिकारियों की नाव, कोई जनहानी नहीं    ||   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||

‘इंडियाज डॉटर’ डॉक्यूमेंटरी के जवाब में भारतीय ने बनाई ‘यूनाइटेड किंगडम्स डॉटर’

‘इंडियाज डॉटर’ डॉक्यूमेंटरी के जवाब में भारतीय ने बनाई ‘यूनाइटेड किंगडम्स डॉटर’

भारत में 16 दिसंबर, 2012 की बलात्कार की घिनौनी वारदात की घटना पर बनी बीबीसी की विवादास्पद डॉक्यूमेंटरी के जवाब में यहां एक भारतीय की ओर से बनाए गए वीडियो में दावा किया गया है कि ब्रिटेन पांचवा सर्वाधिक बलात्कार के मामलों वाला देश है, सिर्फ 10 फीसदी बलात्कारियों को ही दोषी ठहराया जाता है।

बीबीसी की डाक्यूमेंटरी ‘इंडियाज डॉटर’ का निर्माण लेस्ले उडविन ने किया। इसमें दिल्ली में बलात्कार की जघन्य घटना के दोषी मुकेश सिंह का साक्षात्कार था जिसको लेकर भारत में राष्ट्रवादियों में आक्रोश भड़का क्योंकि उन्हें महसूस किया कि भारत की प्रतिष्ठा धूमिल करने का प्रयास किया गया है। इसे भारत में प्रतिबंधित भी किया गया।

समाचार पत्र ‘द टेलीग्राफ’ के अनुसार बीबीसी की डाक्यूमेंटरी के जवाब में हरविंद सिंह ने ‘यूनाइटेड किंगडम्स डॉटर’ नामक वीडियो का निर्माण किया है।


वीडियो में ब्रिटेन में बलात्कार की पीड़िता महिलाओं और यौन उत्पीड़न के आंकड़ों को प्रस्तुत किया गया है।

इसमें कहा गया है, ‘‘विश्व में बलात्कार के मामलों के संदर्भ में बनी सूची में ब्रिटेन का पांचवां स्थान है। बलात्कार के मामलों की संख्या और अधिक है क्योंकि बहुत सारे मामलों की रिपोर्ट नहीं की जाती।’’

इस फिल्म में दावा किया गया है, ‘‘ब्रिटेन में 10 फीसदी महिलाएं यौन प्रताड़ना का सामना करती हैं लेकिन एक तिहाई ब्रिटेनवासी यह मानते हैं कि बलात्कार के लिए महिलाएं जिम्मेदार हैं।’’ आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार ब्रिटेन में रोजाना औसतन 233 महिलाओं के साथ बलात्कार होता है और दोषी ठहराए जाने दर 60 फीसदी है।

  

Todays Beets: