Thursday, April 9, 2020

Breaking News

   भोपाल की बडी झील में पलटी आईपीएस अधिकारियों की नाव, कोई जनहानी नहीं    ||   सुरक्षा परिषद के मंच का दुरुपयोग करके कश्मीर मसले को उछालने की कोशिश कर रहा PAK: भारतीय विदेश मंत्रालय     ||   IIM कोझिकोड में बोले पीएम मोदी- भारतीय चिंतन में दुनिया की बड़ी समस्याओं को हल करने का है सामर्थ    ||   बिहार में रेलवे ट्रैक पर आई बैलगाड़ी को ट्रेन ने मारी टक्कर, 5 लोगों की मौत, 2 गंभीर रूप से घायल     ||   CAA और 370 पर बोले मालदीव के विदेश मंत्री- भारत जीवंत लोकतंत्र, दूसरे देशों को नहीं करना चाहिए दखल     ||   जेएनयू के वाइस चांसलर जगदीश कुमार ने कहा- हिंसा को लेकर यूनिवर्सिटी को बंद करने की कोई योजना नहीं     ||   मायावती का प्रियंका पर पलटवार- कांग्रेस ने की दलितों की अनदेखी, बनानी पड़ी BSP     ||   आर्मी चीफ पर भड़के चिदंबरम, कहा- आप सेना का काम संभालिए, राजनीति हमें करने दें     ||   राजस्थान: BJP प्रतिनिधिमंडल ने कोटा के अस्पताल का दौरा किया, 48 घंटों में 10 नवजात शिशुओं की हुई थी मौत     ||   दिल्ली: दरियागंज हिंसा के 15 आरोपियों की जमानत याचिका पर 7 जनवरी को सुनवाई करेगा तीस हजारी कोर्ट     ||

दिल्ली के तुगलकाबाद में गैस रिसाव से स्कूली बच्चों की हालत खराब, 60 से ज्यादा बच्चे अस्पताल में भर्ती

अंग्वाल न्यूज डेस्क
दिल्ली के तुगलकाबाद में गैस रिसाव से स्कूली बच्चों की हालत खराब, 60 से ज्यादा बच्चे अस्पताल में भर्ती

नईदिल्ली।

राजधानी के तुगलकाबाद में शनिवार सुबह कंटेनर डिपो से गैस लीक होने की घटना के बाद लोगों के बीच अफरा-तफरी का माहौल है। यह घटना एक स्कूल के पास में हुई, जिसकी  चपेट में बच्चे आ गए और बेहोश हो गए। सूत्रों के अनुसार, 60 से ज्यादा बच्चे इस लीकेज से बीमार पड़ गए। इन बच्चों को तीन अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। घटना के बाद स्कूल की छुट्टी कर दी गई। आस-पास  के अन्य स्कूलों ने भी छुट्टी कर दी है।

सूत्रों के अनुसार, यह घटना तुगलकाबाद डिपो के कस्टम एरिया में हुई। इसके पास में रानी झांसी कन्या सर्वोदय स्कूल है। स्कूल की वाइस प्रिंसिपल ने बताया कि गैस लीक होने के बाद बच्चों ने आंख और गले में जलन की शिकायत की, जिसके बाद करीब 60 बच्चों को अस्पतालों में भर्ती कराया गया। उन्होंने बताया कि बच्चों को अपोलो, बत्रा और मजिदिया अस्पताल ले जाया गया। कुछ बच्चों को सफदरजंग और एम्स भी ले जाया गया है। उन्होंने बताया कि अस्पतालों में टीचर्स मौजूद हैं, जो  बच्चों की देख-भाल कर रही हैं।

गैस लीक होने की सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड भी मौके पर पहुंच गई और राहत बचाव कार्य तेजी से शुरू कर दिया गया है। एंबुलेंस और पुलिस की गाड़ियां भी मौके पर पहुंच चुकी हैं।


बता दें कि अस्पताल के बाहर अभिभावकों का जमावड़ा लगा हुआ है। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने कहा कि मामले कि जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

 

 

 

Todays Beets: