Saturday, January 16, 2021

Breaking News

   सरकार की सत्याग्रही किसानों को इधर-उधर की बातों में उलझाने की कोशिश बेकार है-राहुल गांधी     ||   थाइलैंड में साइना नेहवाल कोरोना पॉजिटिव, बैडमिंटन चैम्पियनशिप में हिस्सा लेने गई हैं विदेश     ||   एयर एशिया के विमान से पुणे से दिल्ली पहुंची कोरोना वैक्सीन की पहली खेप     ||   फिटनेस समस्या की वजह से भारत-ऑस्ट्रेलिया चौथे टेस्ट से गेंदबाज जसप्रीत बुमराह बाहर     ||   दिल्ली: हरियाणा के डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की पार्टी विधायकों के साथ बैठक, किसान आंदोलन पर चर्चा     ||   हम अपने पसंद के समय, स्थान और लक्ष्य पर प्रतिक्रिया देने का अधिकार सुरक्षित रखते हैं- आर्मी चीफ     ||   कानपुर: विकास दुबे और उसके गुर्गों समेत 200 लोगों की असलहा लाइसेंस फाइल हुई गायब     ||   हाथरस कांड: यूपी सरकार ने SC में पीड़िता के परिवार की सुरक्षा पर दाखिल किया हलफनामा     ||   लखनऊ: आत्मदाह की कोशिश मामले में पूर्व राज्यपाल के बेटे को हिरासत में लिया गया     ||   मानहानि केस: पायल घोष ने ऋचा चड्ढा से बिना शर्त माफी मांगी     ||

उत्तराखंड में लड़खड़ाई अर्थव्यवस्था

उत्तराखंड में लड़खड़ाई अर्थव्यवस्था
Normal 0 false false false EN-US X-NONE HI

उत्तराखंड की अर्थव्यवस्था पिछले 15 सालों सेडगमगा रही है। कृषि, पर्यटन जैसे रोजगार के मुख्य साधनों पर टिकी सूबे की आवाम केलिए आर्थिकी का कुछ और साधन नज़र नहीं आता। लगातार डगमगाती सरकारी योजनाओं ने पहलेही राज्य को विकास और तरक्की के पथ पर आगे बढ़ने से रोक दिया, ऊपर से आपदा के चलते उत्तराखंड कीअर्थव्यवस्था पर काफी बुरा असर पड़ा, आपदा के कारण पर्यटन व्यवसाय तो प्रभावित हुआही है, साथ ही औद्योगिक घराने और संगठन की बेरूखीके चलते उत्तराखंड की छवि को भी धक्का लगा।

पटरी से उतरी अर्थव्यवस्था को दोबारा रफ्तारपकड़ाने के लिए राज्य सरकार ज़ोर लगा रही है। दुनिया भर में यह संदेश दिया जा रहाहै कि उत्तराखंडऔद्योगिक निवेश के लिए सुरक्षित है, इतना ही नहीं युवाओं के लिए ज्यादा से ज्यादारोज़गार के अवसर तलाशे जा रहे हैं। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए मेरे बुजुर्ग, मेरे तीर्थ जैसी योजनाओं को चलाया जा रहा है,ताकि सूबे की लड़खड़ाती अर्थ व्यवस्था को एक बार फिर खड़ा किया जा सके। खैर उम्मीदकरते हैं कि सरकार की ये कोशिश रंग लाएगी।


 

 

  

Todays Beets: