Monday, December 10, 2018

Breaking News

   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||    दिल्ली: TDP नेता वाईएस चौधरी को HC से राहत, गिरफ्तारी पर रोक     ||    पूर्व क्रिकेटर अजहर तेलंगाना कांग्रेस समिति के कार्यकारी अध्यक्ष बनाए गए     ||   किसानों को कांग्रेस ने मजबूर और बीजेपी ने मजबूत बनाया: PM मोदी     ||

असफल छात्रों को मिलेगा दूसरा मौका, दोबार जारी होगा जेईई एडवांस परिणाम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
असफल छात्रों को मिलेगा दूसरा मौका, दोबार जारी होगा जेईई एडवांस परिणाम

नई दिल्ली। जेईई के इतिहास में पहली बार ऐसा होगा जब परिणाम जारी होने के बाद फिर से संशोधित लिस्ट जारी की जाएगी। आईआईटी प्रबंधन ने अपनी इमरजेंसी बैठक में बड़ा फैसला लेते हुए जेईई एडवांस की कटऑफ लिस्ट को गिराकर दोबारा परिणाम जारी करने का फैसला लिया है।

गौरतलब है कि इस बार जेईई एडवांस में सीटों की तुलना में बहुत कम छात्रों पास हुए थे रिजल्ट पर केंद्र सरकार ने अपनी चींता जताते हुए आईआईटी को यह सुझाव दिया कि लिस्ट को फिर से जारी की जाए।

ये भी पढ़े -UPSC में निकली बंम्पर भर्तियां, इस तरह करें आवेदन

आईआईटी के इस फैसले से उन छात्रों को राहत मिलेगी जो कटऑफ हाई होने के कारण सफल नहीं हो सके। यहां आपको बता दें की मेरीट लिस्ट जारी होने से 13,850 अत्तिरिक्त छात्रों को लाभ प्राप्त होगा। इस तरह कुल मिलाकर पास होने वाले छात्रो की संख्या 31,988 हो जाएगी।


इस बार सामान्या कटऑफ 126 अंक गया था जिसे बदलकर अब 90 अंक कर दिया जाएगा।

ये भी पढ़े -एटीएम से पैसे निकालने के लिए अब आधार कार्ड का भी कर सकेंगे इस्तेमाल, ये है तरीका

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा कि आईआईटी प्रबंधन को निर्देश दिया गया है कि आईआईटी की एक भी सीट खाली न रहे। क्योंकि एक-एक सीट बेहद महत्वपूर्ण होती है। जेईई एडवांस में क्वालिफाइड छात्रों की संख्या कम होने पर आईआईटी प्रबंधन की इमरजेंसी बैठक आयोजित हुई थी। उसके बाद इस फैसले को मंजूरी दे दी गई।

Todays Beets: