Thursday, October 18, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

जुलाई में नहीं होगी CBSE NET परीक्षा ,नाराज छात्रों ने यूजीसी के बाहर किया प्रदर्शन

अंग्वाल संवाददाता
जुलाई में नहीं होगी CBSE NET परीक्षा ,नाराज छात्रों ने यूजीसी के बाहर किया प्रदर्शन

नई दिल्ली। असिस्टेंट प्रोफेसर बनने के लए नेशनल एलिजिबिलटी टेस्ट (नेट) का इंतजार कर रहें छात्रों को यूजीसी ने बड़ा झटका दिया है। यूजीसी से जुलाई में होने वाली नेट परीक्षा की तारीख को टाल दिया है। इस बारेमें यूजीसी की तरफ से 6 जून को नोटिफिकेशन जारी किया गया है। सीबीएसई नेट की वेबसाइट पर उपलब्ध इस नोटिफिकेशन के अनुसार अब इस परीक्षा को नवंबर माह में आयोजित किया जाएगा। यूजीसी के इस फैसले के बाद परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को झटका लगा है।

आपको बता दें, कि यूजीसी के नियमों के अनुसार असिस्टेंट प्रोफेसर बनने के लिए नेट परीक्षा को क्लियर करना जरुरी होता है। इस परीक्षा का आयोजन साल में दो बार जुलाई और नवंबर में किया जाता है। लेकिन, इस बार जुलाई की परीक्षा को यूजीसी की तरफ से निरस्त कर दिया गया है। इस साल एक बार ही नवंबर में यह परीक्षा कराई जाएगी।

 

 


साल में एक बार कराने की तैयारी

रिपोर्ट के अनुसार यूजीसी इस परीक्षा को साल में एक बार कराने पर विचार कर रही है। इसे लेकर यूजीसी को कुछ सुझाव मिले हैं। साथ ही पास होने का प्रतिशत 6 फीसदी रखने का सुझाव  दिया गया है। हालांकि अभी तक इस मामले में कोई भी औपचारिक जानकारी नहीं दी गई है। वहीं आपको बता दें कि जुलाई में नेट की परीक्षा को अदालत में चल रहें एक मामले में देरी के चलते रद्द किया गया है।

छात्रों ने किया प्रदर्शन 

जुलाई की परीक्षा रद्द करने से छात्रों में खलबली मच गई है। बुधवार को बड़ी संख्या में छात्रों ने नाराजगी जताते हुए यूजीसी के बाहर प्रदर्शन किया। इसके बाद एक छात्र यूजीसी मंडल के सचिव से मिला। सचिव ने छात्रों से कहा कि इस मामले में मानव संसाधन विकास मंत्रालय और सीबीएसई से बात की जा रही है वह शांति बनाए रखें।

Todays Beets: