Friday, October 20, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

अगले साल से सीबीएसई 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं मार्च की जगह फरवरी में करेगा आयोजित

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अगले साल से सीबीएसई 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं मार्च की जगह फरवरी में करेगा आयोजित

नई दिल्ली।

सीबीएसई अगले साल से 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं मार्च की जगह फरवरी में शुरू करेगा। इस मामले में सीबीएसई का कहना है कि  अंकों के मूल्यांकन में किसी तरह की गलती न हो, इसी बात को ध्यान में रखकर परीक्षा के शेड्यूल में बदलाव किया गया है। इसके साथ ही बोर्ड ने परीक्षाएं 45 दिनों की अपेक्षा एक महीने में ही पूरी कराने का भी फैसला किया है। बता दें कि अभी तक सीबीएसई बोर्ड की परीक्षाएं 1 मार्चसे शुरू होकर 20 अप्रैल तक चलती हैं और रिजल्ट मई के तीसरे या चौथे हफ्ते में घोषित किया जाता है।

15 फरवरी से शुरू होंगी परीक्षाएं

सीबीएसई के चेयरमैन आरके चतुर्वेदी के अनुसार, नए सत्र से परीक्षाएं 15 फरवरी से शुरू हो जाएंगी और इन्हें एक महीने के अंदर यानी 15 मार्च तक पूरा कर लिया जाएगा। इससे रिजल्ट भी जल्दी घोषित कर दिया जाएगा। सीबीएसई का मानना है कि रिजल्ट जल्दी घोषित होने से छात्रों को कॉलेज में एडमिशन लेने में मदद मिलेगी। अभी रिजल्ट और ग्रेजुएशन के लिए एडमिशन का समय एक ही होता है, इसलिए छात्रों को कई तरह की दिक्कतें आती हैं।


मूल्यांकन में सुधार के लिए लिया फैसला

दरअसल, सीबीएसई ने परीक्षाएं जल्द कराने का फैसला अपनी मूल्यांकन पद्धति में सुधार को लेकर लिया है। हाल में सीबीएसई के मूल्यांकन को लेकर कई सवाल उठे थे। बोर्ड से चेयरमैन आरके चतुर्वेदी ने कहा कि अप्रैल में छुट्टियां शुरू हो जाती हैं, इसलिए अनुभवी शिक्षक मूल्यांकन के लिए नहीं मिल पाते। परीक्षाएं जल्दी होने से अनुभवी शिक्षक कॉपी जांचने के लिए उपलबध हो पाएंगे, जिससे सीबीएसई के मूल्यांकन में सुधार होगा।

 

Todays Beets: