Sunday, September 23, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

अब बिल्कुल इंसानों की तरह रोबोट करेंगे आपकी पीठ और घुटने की मसाज, देखें वीडियो 

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब बिल्कुल इंसानों की तरह रोबोट करेंगे आपकी पीठ और घुटने की मसाज, देखें वीडियो 

आज की भागदौड़ भरी जिन्दगी और लगातार एक ही स्थिति में बैठकर काम करने की वजह से पीठ, कमर और घुटने के दर्द की शिकायत आम हो गई है। इस दर्द से निजात पाने के लिए फिजियोथैरेपी पर लोग न जाने कितने रुपये पानी की तरह बहा देते हैं। अब इस तरह के दर्द से एक रोबोट आराम दिलाएगा। सिंगापुर में एक ऐसा रोबोट ‘एम्मा’ तैयार किया गया है जो बिल्कुल इंसानी हाथों का अनुभव देगा। दरअसल इसमें लगा सेंसर कमर और घुटने के दर्द को महसूस करेगा और वहां मसाज देगा। इस रोबोट को विकसित करने वाली कंपनी का दावा है कि ऐसे रोबोट्स के विकास से हेल्थकेयर इंडस्ट्री में आने वाले मानव संसाधन की कमी से भी निपटने में मदद मिलेगी। 

इंसानी हाथों का अनुभव

गौरतलब है कि एम्मा का मतलब ‘एक्सपर्ट मैनिपुलेटिव मसाज ऑटोमेशन’ है। रोबोट ‘एम्मा’ ने सिंगापुर के नोवा हेल्थ ट्रेडिशनल चाईनीज मेडिकल क्लिनिक में काम करना शुरू कर दिया। इस रोबोट के साथ एक फिजीशियन और एक मसाज थैरेपिस्ट भी काम कर रहे थे। आपको बता दें कि एम्मा का विकास सिंगापुर की एक स्टार्टअप कंपनी ‘एआईट्रीट’ ने किया है। इस रोबोट से मसाज ले चुके लोगों का कहना है कि यह बिल्कुल इंसान के हाथों की तरह मसाज करता है।  

ये भी पढ़ें - मशीन बन रहा इंसान का दुश्मन, आने वाले सालों में रोबोट लेगा उसकी जगह


3500 रुपये में होगा मसाज

यहां बता दें कि सिंगापुर में पारंपरिक मसाज लेने का खर्च करीब 45 से 75 डॉलर तक होता है जिसमें 20 मिनट का मसाज शामिल है जबकि नोवा हेल्थ टीसीएम क्लिनिक में एक मरीज को यही कंसल्टेशन मात्र 50 डॉलर में उपलब्ध होगी जिसमें 40 मिनट का मसाज भी शामिल है। अगर भारतीय रुपये में इस मसाज का अनुभव लेना चाहते हैं तो आपको करीब 3500 रुपये खर्च करने होंगे। 

Todays Beets: