Tuesday, August 22, 2017

Breaking News

   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||   SC में आर्टिकल 370 को हटाने के लिए याचिका दायर, कोर्ट ने दिया केंद्र को नोटिस    ||   राज्यसभा में सिब्बल बोले- छप रहे 1 नंबर के दो नोट, सदी का सबसे बड़ा घोटाला    ||   नीतीश सरकार के मंत्रिमंडल का आज होगा विस्तार, शपथ ले सकते हैं 16 मंत्री    ||   सपा को तगड़ा झटका, बुक्कल नवाब समेत 2 MLC का इस्तीफा, की मोदी-योगी की तारीफ    ||   नगालैंड: शुरहोजेली ने विश्वासमत से पहले ही मानी हार, ज़ेलियांग ने ली CM पद की शपथ    ||   बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा- पार्टी कहेगी तो दे दूंगा इस्तीफा    ||   डोकलाम विवाद: भारतीय सीमा के पास खूब हथियार जमा कर रहा है चीन!    ||   रवि शास्त्री की चाहत- सचिन को मिले भारतीय बल्लेबाजी का जिम्मा    ||

हेलीकॉप्टर से बारात को ले जाना पड़ा भारी, शादी के बजाय पहुंचे सीधे जेल

अंग्वाल संवाददाता
हेलीकॉप्टर से बारात को ले जाना पड़ा भारी, शादी के बजाय पहुंचे सीधे जेल

बंग्लादेश। आपने टीवी में कई हाईप्रोफाइल शादियां देखी होंगी जहां दूल्हा और बारात निजी हेलीकॉप्टर से जाते हैं । आज हम भी आपको एक ऐसी ही शादी का किस्सा सुनाएंगे जिसमें बारातियों को हेलीकॉप्टर से शादी में ले जाया जा रहा था,  लेकिन शादी में पहुंचने के बजाए बारती जेल पहुंच गए। दरअसल, बारतियों को ले जा रहा है यह निजी हेलीकॉप्टर गलती से उच्च सुरक्षा वाली एक जेल में उतर गया। इस एक छोटी सी गलती के कारण बारातियों को जेल का सफर करना पड़ा। हालांकि जब यह मामला साफ हुआ तो अधिकारियों नें उन्हें रिहा कर दिया।

यह भी पढ़े- दुबई में बना दंगल केक, बेकर्स का दावा यह है दुनिया का सबसे महंगा केक, देखें तस्वीरें

रिपोर्ट के मुताबिक, यह घटना बंगलादेश के कशिमपुर सेंट्रल जेल की है। इस घटना के कारण वहां जेल की सुरक्षा को लेकर भी चिंता जताई गई। इस तरह की घटना के बाद पुलिस को लगा कि जेल में बंद आंतकियों के दोस्त उन्हें रिहा कराने के लिए इस तरह की योजना बना रहे हैं। हेलीकॉप्टर के पॉयलट को वायुसेना का सेवानिवृत्त अधिकारी बताया जा रहा है।


यह भी पढ़े- एक अनोखा पेड़ जिसमें पानी देने के लिए अपना रहें है यह अनोखा तरीका, देखें पूरा वीडियो

इस पूरे घटनाक्रम पर जेल के ब्रिगेडियर जनरल सैयद इफ्तेखार उद्दीन ने कहा, यह भूल के कारण होने वाली घटना थी, लेकिन हमें इस तरह की खूफिया सूचना मिली थी कि आंतकी अपने साथियों के साथ भागने की साजिश रच रहे हैं। इस घटना के बाद हमें सुरक्षा को लेकर किए गए इंतजामों में खामियां नजर आई हैं। जेल प्रमुख ने बताया कि हैलीकॉप्टर सेवा प्रबंधन ने गलती के लिए मांफी मांग ली है।

Todays Beets: