Wednesday, September 19, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

पत्नी की लाश कंधे पर ढोने वाला दाना मांझी बना लखपति, पीएम आवास योजना से घर भी मिला

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पत्नी की लाश कंधे पर ढोने वाला दाना मांझी बना लखपति, पीएम आवास योजना से घर भी मिला

नई दिल्ली।  कभी अपनी पत्नी की लाश कंधे पर लेकर अस्पताल से अपने गांव तक पहुंचे ओडिशा के दाना मांझी आज लखपति बन गए हैं और उसकी तीनों बेटियां भुवनेश्वर के आवासीय विद्यालय में शिक्षा हासिल कर रही हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत उसे एक घर भी दिया गया है जिसका फिलहाल निर्माण कार्य चल रहा है। बता दें कि दाना मांझी पैसे के अभाव में अपनी मृत पत्नी की लाश को अपने कंधे पर लादकर अस्पताल से अपने घर की 10 किलोमीटर की दूरी पैदल तय की थी।

बहरीन के पीएम ने की मदद

गौरतलब है कि दाना मांझी की तस्वीर/वीडियो ने काफी सुर्खियां बटोरी थी। इसके बाद बहरीन के प्रधानमंत्री प्रिंस खलीफा बिन सलमान अल-खलीफा ने दाना मांझी को 9 लाख रुपये दिए थे। बता दें कि जब उसे पैसे मिले उस वक्त मांझी के पास बैंक खाता भी नहीं था लेकिन आज उसके न सिर्फ बैंक खाते हैं काफी पैसे फिक्सड डिपाॅजिट में भी हैं। यहीं नहीं बहरीन के पीएम से मदद मिलने के बाद कई स्थानीय संस्थाओं ने भी उसकी मदद के लिए हाथ बढ़ाए थे। आज वह शानदार होंडा की बाइक पर चलता है।


ये भी पढ़ें - अब रोबोट करेंगे इलाज और लड़ेंगे चुनाव, जाने कहां होगा ऐसा

पीएम आवास योजना में मिला घर

यहां बता दें गरीबी की वजह से जिस दाना मांझी की ओर प्रशासन की तरफ से कोई ध्यान नहीं दिया जाता था उसे प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर मुहैया कराया गया है और इसका निर्माण कार्य चल रहा है। दाना मांझी की तीनों बेटियां मुफ्त शिक्षा अभियान के तहत एक आवासीय विद्यालय में पढ़ाई कर रहीं हैं। इस बीच उसने दूसरी शादी कर ली है।

Todays Beets: