Sunday, February 18, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

ऐसा क्या हुआ कि परिजनों ने अपनी बेटी को 20 साल एक अंधेरे कमरे में 'कैद' कर दिया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
ऐसा क्या हुआ कि परिजनों ने अपनी बेटी को 20 साल एक अंधेरे कमरे में

गोवा । अमूमन किसी भी माता-पिता को उनके बच्चे को छोटी सी खरोंच भी आना स्वीकार नहीं होता, लेकिन गोवा कैंडोलिम गांव में एक महिला को उसके मां-पिता ने पिछले 20 सालों से एक अंधेरे कमरे में बंद रखा। ऐसा भी नहीं था कि यह महिला उस समय किसी प्रकार मानसिक रूप से कमजोर रही हो। उसकी शादी एक ऐसे युवक से साथ हो गई थी जो पहले से शादीशुदा था। सौतन होने पर वह अपने घर लौट आई, लेकिन कभी अपनी पति से जुदा होने का गम भुला नही पाई। परिजनों ने भी उस दौरान पूरे मामले में लापरवाही बरती और उसकी झुंझलाहट को असामान्य व्यवहार करार देकर अंधेरे कमरे में बंद कर दिया।

ये भी पढ़ें - सांप के साथ शादी में नाचना युवक को पड़ा महंगा, सांप के डसने से हो गई मौत

 एक एनजीओ और पुलिस की मदद से इस महिला को 20 साल बाद एक अंधेरे कमरे से बाहर निकाला गया, जो अब बाहर आने को तैयार भी नहीं थी। शायद उसे अब वह अंधेरा ही अच्छा लगने लगा है, जिसके साथ उसने पिछले 20 साल गुजार दिए। हालांकि परिजनों का कहना है कि उसका व्यवहार उस दौरान काफी अजीब सा हो गया था, तब उसे कमरे में बंद किया था और यह सिलसिला यूं ही चलता रहा। 

पूरा मामला गोवा के कैंडोलिम गांव का है। इस इलाके में काम करने वाली एक एनजीओ ने पुलिस को जानकारी दी कि पिछले 20 साल से एक महिला को अंधेरे कमरे में बंद करके रखा हुआ है। महिला के परिवार में उसके दो भाई और अन्य परिजन हैं। महिला को एक खिड़की के माध्यम से ही खाना दिया जाता है। एनजीओ की इस पहल पर पुलिस ने उस घर पर दबिश देकर अब 50 साल की हो चुकी एक महिला को अंधेरे कमरे से बाहर निकाला। 


ये भी पढ़ें - इस दुल्हन ने अपनी शादी के दिन करवाया मुंडन,आपका दिल छू लेगी इसकी वजह

पुलिस का कहना है कि जब वह महिला के कमरे में पहुंचे तो वह कमरे में नग्नावस्था में थी। जब उसे कमरे से बाहर आने को कहा गया तो वह बाहर आने को तैयार नहीं हुई। वह करीब पिछले 20 सालों से एक ही हाल में कमरे में अपना समय गुजार रही थी। पुलिस के अनुसार, परिजन इस सब के पीछे उस समय के हालात को गुनहगार बता रहे हैं। परिजनों के कहना है कि 30 साल की उम्र में महिला की शादी मुंबई में रहने वाले एक युवक से शादी हुई। हालांकि शादी के बाद सामने आया कि वह युवक पहले से ही शादी शुदा था। ऐसे में वह वापस घर आ गई और कुछ अजीब सा व्यवहार करने लगी। ऐसी स्थिति में उसे कमरे में बंद कर दिया गया लेकिन उसके बाद वह कभी सामान्य नहीं हो पाई। 

बहरहाल इस मामले में पुलिस ने अभी किसी की भी गिरफ्तारी नहीं की है। अभी महिला को इलाज के लिए अस्पताल में भेज दिया गया है। 

ये भी पढ़ें - 50 साल तक लिव इन में रहने के बाद मोक्ष के लिए  80 साल की उम्र में रचायी शादी

Todays Beets: