Monday, September 24, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

यह है दुनिया का अजीब-गरीब जंगल, यह पाए जाएं जाते हैं अनोखे तरह के पेड़

अंग्वाल न्यूज डेस्क
यह है दुनिया का अजीब-गरीब जंगल, यह पाए जाएं जाते हैं अनोखे तरह के पेड़

पोलैंड। यूं तो दुनिया में कुछ न कुछ अजीब-गरीब घटनाएं होती रहती हैं, लेकिन बहुत बार ऐसा होता है कि हमें प्रकृति में भी कुछ विचित्र देखने को मिलता है। आज हम प्रकृति की एक ऐसी ही विचित्रता के बारे में बताने जा रहें हैं। दरअसल, हम पोलैंड के कूड जंगल के बारे में बात कर रहे हैं। पौलेंड के इस जंगल में लगे लगभग 400 पेड़ समकोण पर मुड़े हुए है। यह पेड़ 90 डिग्री के आधार का कोण बनाते हैं। यह जंगल नोवे सजारनोवो गांव के पास स्थित है, जिन्हें देख कोई भी हैरान रह जाएगा।  

यह भी पढ़ेे- पति की मौत के तीन साल बाद दिया बेटी को जन्म

 


रिपोर्ट के अनुसार, बताया जाता है कि द्वितीय विश्व युद्ध की शुरुआत से पहले इन पेड़ों को लगाया गया था। यह सभी पेड़ एक समान मुड़े हुए हैं। यह तीन से नौ फुट मुड़े होने के बाद ऐसे ही ऊपर की तरफ बढ़ते हैं। पेड़ों के ऐसे होने के पीछे कई कारण बताए जाते हैं। कोई इसे दूसरे ग्रहों से आए लोगों का काम बताता है, तो कुछ लोगों का कहना है कि पृथ्वी के इस हिस्से में गुरुत्वाकर्षण बल धरती के दूसरी जगहों से ज्यादा है। इतना ही नहीं यह भी माना जाता है कि दूसरे विश्व युद्ध के दौरान वहां से गुजरने वाले टैंकों के प्रभाव से पेड़ मुड़ गए है।   

यह भी पढ़ेे- विमान बना डिलीवरी रूम, महिला ने 39000 फीट की ऊंचाई पर दिया बच्चे को जन्म

यह भी पढ़ेे- आसमान में बादलों के बीच इस आकृति को देखकर हैरान रह गए लोग, देखें पूरा वीडियो...,

Todays Beets: