Tuesday, January 23, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

यह है दुनिया का अजीब-गरीब जंगल, यह पाए जाएं जाते हैं अनोखे तरह के पेड़

अंग्वाल न्यूज डेस्क
यह है दुनिया का अजीब-गरीब जंगल, यह पाए जाएं जाते हैं अनोखे तरह के पेड़

पोलैंड। यूं तो दुनिया में कुछ न कुछ अजीब-गरीब घटनाएं होती रहती हैं, लेकिन बहुत बार ऐसा होता है कि हमें प्रकृति में भी कुछ विचित्र देखने को मिलता है। आज हम प्रकृति की एक ऐसी ही विचित्रता के बारे में बताने जा रहें हैं। दरअसल, हम पोलैंड के कूड जंगल के बारे में बात कर रहे हैं। पौलेंड के इस जंगल में लगे लगभग 400 पेड़ समकोण पर मुड़े हुए है। यह पेड़ 90 डिग्री के आधार का कोण बनाते हैं। यह जंगल नोवे सजारनोवो गांव के पास स्थित है, जिन्हें देख कोई भी हैरान रह जाएगा।  

यह भी पढ़ेे- पति की मौत के तीन साल बाद दिया बेटी को जन्म

 


रिपोर्ट के अनुसार, बताया जाता है कि द्वितीय विश्व युद्ध की शुरुआत से पहले इन पेड़ों को लगाया गया था। यह सभी पेड़ एक समान मुड़े हुए हैं। यह तीन से नौ फुट मुड़े होने के बाद ऐसे ही ऊपर की तरफ बढ़ते हैं। पेड़ों के ऐसे होने के पीछे कई कारण बताए जाते हैं। कोई इसे दूसरे ग्रहों से आए लोगों का काम बताता है, तो कुछ लोगों का कहना है कि पृथ्वी के इस हिस्से में गुरुत्वाकर्षण बल धरती के दूसरी जगहों से ज्यादा है। इतना ही नहीं यह भी माना जाता है कि दूसरे विश्व युद्ध के दौरान वहां से गुजरने वाले टैंकों के प्रभाव से पेड़ मुड़ गए है।   

यह भी पढ़ेे- विमान बना डिलीवरी रूम, महिला ने 39000 फीट की ऊंचाई पर दिया बच्चे को जन्म

यह भी पढ़ेे- आसमान में बादलों के बीच इस आकृति को देखकर हैरान रह गए लोग, देखें पूरा वीडियो...,

Todays Beets: