Wednesday, October 24, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

मैन ऑफ द मैच जडेजा को मिली खराब व्यवहार की सजा, तीसरे मैच के लिए किया निलंबित

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मैन ऑफ द मैच जडेजा को मिली खराब व्यवहार की सजा, तीसरे मैच के लिए किया निलंबित

कोलंबो । श्रीलंका के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में भारत ने एक बार फिर मेजबान टीम को करारी शिकस्त दी। भारत की इस जीत के हीरों रहे हरफनमौला खिलाड़ी रविंद्र जड़ेजा ने शानदार गेंदबाजी करते हुए पांच विकेट लिए। उनके शानदार खेल की बदौलत उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया, लेकिन साथ ही इस मैच में उनके खराब व्यवहार के चलते तीसरे टेस्त मैच के लिए निलंबित कर दिया गया। मैच के थर्ड अंपायर ने उन्हें आईसीसी के कोड ऑफ कंडक्ट की धारा 2.2.8 के उल्लंघन का दोषी पाया गया है। इसके चलते अब जड़ेजा 12 से 16 अगस्त के बीच खेले जाने वाले तीसरे टेस्ट मैच में टीम इंडिया का हिस्सा नहीं होगा। 

जानिए आखिर क्यों मिली सजा

असल में मैच के दौरान जडेजा पर तीसरे दिन यानी शनिवार को गेंदबाजी के दौरान श्रीलंकाई बल्लेबाज पर क्रीज न छोड़ने के बावज़ूद ख़तरनाक तरीके से स्टम्प्स पर गेंद मारने का आरोप है। आईसीसी ने जानकारी दी कि, मैदान पर मौजूद अंपायरों ने इस व्यवहार को जानलेवा करार दिया, क्योंकि यह गेंद उस समय पिच पर खड़े दिमुथ करुणारत्ने के बिल्कुल पास से होकर गुजरी थी। इसके चलते उनपर आईसीसी ने जड़ेजा को कोड ऑफ कंडक्ट की धारा 2.2.8 के उल्लंघन का दोषी पाया है। इसका मतलब है कि मैच के दौरान गेंद या कोई अन्य वस्तु जैसे की पानी की बोतल आदि अनुचित या ख़तरनाक तरीके से किसी खिलाड़ी, खिलाड़ी के समर्थक, अंपायर या मैच रेफ़री की ओर फेंकना गलत है।

मैच फीस का 50 फीसदी जुर्माना भी लगा


तीसरे टेस्ट मैच से निलंबित किए जाने के साथ ही जड़ेजा पर मैच फीस का 50 फीसदी जुर्माना भी लगा है। बता दें कि इससे पहले गत वर्ष अक्टूबर में न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच के दौरान उनपर आईसीसी के कोड ऑफ कंडक्ट की धारा 2.2.11 के उल्लंघन का दोषी पाया गया था, जिसके चलते उनके तीन डी-मैरिट अंंक हो गए थे। अब इस तीसरे टेस्ट मैच से निलंबन के बाद जडेजा के खाते में छह डी-मैरिट अंक हो गए हैं। अब अगर अक्टूबर, 2018 तक उनके खाते में यह अंक बढ़कर 8 हो जाते हैं, तो उन पर दो टेस्ट मैच या चार वनडे/ चार टी-20 ( जो पहले आए) में निलंबन का सामना करना होगा।

 

 

 

Todays Beets: