Tuesday, January 22, 2019

Breaking News

   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||

पूर्व तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने क्रिकेट को कहा ‘अलविदा’, साथ देने वालों को कहा शुक्रिया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पूर्व तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने क्रिकेट को कहा ‘अलविदा’, साथ देने वालों को कहा शुक्रिया

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट के पूर्व तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। ट्विटर पर अपने संन्यास की जानकारी देते हुए आरपी सिंह ने उन सभी लोगों को धन्यवाद दिया है कि जिन्होंने उनके शानदार सफर में उनका साथ दिया। बता दें कि उत्तरप्रदेश के रहने वाले आरपी सिंह को 2005 में पहली बार राष्ट्रीय टीम में शामिल किया गया था। आरपी सिंह को कैप्टन कूल यानी की महेन्द्र सिंह धोनी के सबसे अच्छे दोस्तों में से एक माना जाता है। 

गौरतलब है कि रुद्रप्रताप सिंह (आरपी सिंह) साल 2007 में टी-20 विश्वकप जीतने वाली टीम के अहम हिस्सा रहे थे। वहीं आॅस्ट्रेलिया में हुए टेस्ट मैच की जीत में भी उनकी अहम भूमिका थी। पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने भी उनके साथ अपनी दोस्ती खूब निभाई थी। खराब फाॅर्म के बावजूद आरपी को टीम में शामिल कराने के लिए वे चयनकर्ताओं से भिड़ गए थे। 

ये भी पढ़ें - एशिया कप के लिए टीम इंडिया का ऐलान , कोहली को मिला आराम, रोहित शर्मा को कप्तानी


यहां बता दें कि आरपी ने 6 साल के छोटे अंतरराष्ट्रीय करियर में तीनों प्रारूपों में कुल 82 मैच खेले और 124 विकेट हासिल किए। आरपी सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘‘मैंने सपना पूरा किया। मैंने कभी नहीं सोचा था कि मुझे यह कहने का मौका मिलेगा क्योंकि मेरा जन्म एक छोटे से गांव में हुआ था। मेरे समर्थकों जिन्होंने मुझ पर भरोसा किया, जिन्होंने मेरी आलोचना की लेकिन सब के बावजूद मेरे लिए हमेशा खड़े रहे, उन्हें मैं धन्यवाद देना चाहता हूं’’।

 

Todays Beets: