Sunday, September 23, 2018

Breaking News

   ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के पूर्व जीएम के ठिकानों पर आयकर के छापे     ||   बिहार: पूर्व मंत्री मदन मोहन झा बनाए गए प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष। सांसद अखिलेश सिंह बनाए गए अभियान समिति के अध्यक्ष। कौकब कादिरी समेत चार बनाए गए कार्यकारी अध्यक्ष।     ||   कर्नाटक के मंत्री शिवकुमार के खिलाफ ED ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया    ||   सीतापुर में श्रद्धालुओें से भरी बस खाई में पलटी 26 घायल, 5 की हालत गंभीर     ||   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||

पूर्व तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने क्रिकेट को कहा ‘अलविदा’, साथ देने वालों को कहा शुक्रिया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पूर्व तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने क्रिकेट को कहा ‘अलविदा’, साथ देने वालों को कहा शुक्रिया

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट के पूर्व तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। ट्विटर पर अपने संन्यास की जानकारी देते हुए आरपी सिंह ने उन सभी लोगों को धन्यवाद दिया है कि जिन्होंने उनके शानदार सफर में उनका साथ दिया। बता दें कि उत्तरप्रदेश के रहने वाले आरपी सिंह को 2005 में पहली बार राष्ट्रीय टीम में शामिल किया गया था। आरपी सिंह को कैप्टन कूल यानी की महेन्द्र सिंह धोनी के सबसे अच्छे दोस्तों में से एक माना जाता है। 

गौरतलब है कि रुद्रप्रताप सिंह (आरपी सिंह) साल 2007 में टी-20 विश्वकप जीतने वाली टीम के अहम हिस्सा रहे थे। वहीं आॅस्ट्रेलिया में हुए टेस्ट मैच की जीत में भी उनकी अहम भूमिका थी। पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने भी उनके साथ अपनी दोस्ती खूब निभाई थी। खराब फाॅर्म के बावजूद आरपी को टीम में शामिल कराने के लिए वे चयनकर्ताओं से भिड़ गए थे। 

ये भी पढ़ें - एशिया कप के लिए टीम इंडिया का ऐलान , कोहली को मिला आराम, रोहित शर्मा को कप्तानी


यहां बता दें कि आरपी ने 6 साल के छोटे अंतरराष्ट्रीय करियर में तीनों प्रारूपों में कुल 82 मैच खेले और 124 विकेट हासिल किए। आरपी सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘‘मैंने सपना पूरा किया। मैंने कभी नहीं सोचा था कि मुझे यह कहने का मौका मिलेगा क्योंकि मेरा जन्म एक छोटे से गांव में हुआ था। मेरे समर्थकों जिन्होंने मुझ पर भरोसा किया, जिन्होंने मेरी आलोचना की लेकिन सब के बावजूद मेरे लिए हमेशा खड़े रहे, उन्हें मैं धन्यवाद देना चाहता हूं’’।

 

Todays Beets: