Sunday, June 24, 2018

Breaking News

   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||   टेस्ट में भारत की सबसे बड़ी जीत: अफगानिस्तान को एक दिन में 2 बार ऑलआउट किया, डेब्यू टेस्ट 2 दिन में खत्म     ||   पेशावर स्कूल हमले का मास्टरमाइंड और मलाला पर गोली चलवाने वाला आतंकी फजलुल्लाह मारा गया: रिपोर्ट     ||   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||

काॅमनवेल्थ गेम्स में वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने भारत को दिलाई स्वर्णिम सफलता, गुरुराजा ने जीता रजत पदक

अंग्वाल न्यूज डेस्क
काॅमनवेल्थ गेम्स में वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने भारत को दिलाई स्वर्णिम सफलता, गुरुराजा ने जीता रजत पदक

नई दिल्ली। गोल्ड कोस्ट में चल रहे 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स के पहले ही दिन भारत ने पदक जीतकर अपना खाता खोल लिया है। भारतीय महिला वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने स्वर्ण पदक जीता है। चानू ने यह पदक 48 किलोग्राम वर्ग में जीता है। उन्होंने स्नैच राउंड में (80किग्रा, 84किग्रा, 86किग्रा) का भार उठाया। वहीं क्लीन ऐंड जर्क राउंड में उन्होंने पहली बार 103 किलोग्राम, दूसरे बार 107 किलोग्राम और तीसरी बार 110 किलोग्राम का भार उठाकर भारत को पहला स्वर्ण पदक दिलाया। बता दें कि चानू ने स्नैच राउंड में 80 किलोग्राम वजन उठाकर कॉमनवेल्थ गेम्स में नया कीर्तिमान भी स्थापित किया है। इसके अलावा आखिरी राउंड में उठाया गया 86 किलोग्राम वजन कॉमनवेल्थ में उनका अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। इससे पहले कॉमनवेल्थ में उन्होंने 85 किलोग्राम वजन उठाया था।

वहीं दूसरी तरफ वेटलिफ्टर गुरुराजा ने भी 56 किलोग्राम वर्ग में पदक जीता है। गुरुराजा ने कुल 249 किलोग्राम उठाकर सिल्वर मेडल जीता और विदेशी धरती पर देश का मान बढ़ाया है। इस प्रतियोगिता में मलेशिया के इजहार ने स्वर्ण पदक जीता है वहीं श्रीलंका के चतुरंगा लकमल ने कांस्य पदक जीता है।


ये भी पढ़ें - अनंतनाग में सीआरपीएफ का वाहन पत्थरबाजी का शिकार होकर पलटा, 2 जवान शहीद, 1 गंभीर रूप से जख्मी

बता दें कि 261 किलोग्राम वजन उठाकर स्वर्ण पदक जीतने वाले इजहार ने कॉमनवेल्थ गेम्स में नया रिकॉर्ड भी कायम किया है। वहीं श्रीलंका के चतुरंगा लकमल ने 248 किलोग्राम भार उठाकर कांस्य पदक जीता है। यहां गौर करने वाली बात है कि गुरुराजा वेटलिफ्टिंग के साथ पावरलिफ्टिंग में भी अपना हाथ आजमा चुके हैं। गुरुराजा इससे पहले 2017 में ऑस्ट्रेलिया में हुई कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में गुरुराजा ने कांस्य पदक जीता था। 2016 में पेनांग में हुई कॉमनवेल्थ सीनियर वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में वह स्वर्ण पदक भी जीत चुके हैं। इसके अलावा उन्होंने इसी साल साउथ एशियन गेम्स में भी स्वर्ण पदक जीता है। 

Todays Beets: