Tuesday, December 11, 2018

Breaking News

   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||    दिल्ली: TDP नेता वाईएस चौधरी को HC से राहत, गिरफ्तारी पर रोक     ||    पूर्व क्रिकेटर अजहर तेलंगाना कांग्रेस समिति के कार्यकारी अध्यक्ष बनाए गए     ||   किसानों को कांग्रेस ने मजबूर और बीजेपी ने मजबूत बनाया: PM मोदी     ||

गावस्कर की धोनी को घरेलू क्रिकेट में जाकर खेल सुधारने की सलाह, कहा- ऐसा कर टीम इंडिया में दावेदारी मजबूत होगी

सुनीता गौड़
गावस्कर की धोनी को घरेलू क्रिकेट में जाकर खेल सुधारने की सलाह, कहा- ऐसा कर टीम इंडिया में दावेदारी मजबूत होगी

नई दिल्ली । पूर्व क्रिकेटर और दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने विश्व के सबसे बेहतर फिनिशर कहे जाने वाले क्रिकेट जगत के कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी को एक बड़ी सलाह दी है। पिछले कुछ समय में अपने नाम के अनुकूल प्रदर्शन नहीं कर पाने पर  सुनील गावस्कर ने धोनी को सलाह दी है कि वह घरेलू क्रिकेट में लौटें ताकि वह अपनी पुरानी फॉर्म को दोबारा से हासिल कर सकें। ऐसा करके वह अपनीटीम इंडिया में दावेदारी को मजबूती से रख सकेंगे।

इंडिया टुडे से बातचीत में जब गावस्कर से पूछा गया कि क्या धोनी को घरेलू क्रिकेट में खेलना चाहिए तो उन्होंने कहा, ‘हां, बिलकुल। धोनी को डोमेस्टिक क्रिकेट खेलना चाहिए और चार दिवसीय क्रिकेट भी खेलना चाहिए क्योंकि वह झारखंड के कई उभरते क्रिकेटरों की मदद करेंगे। 50 ओवर के खेल में आपके पास सीमित मौके होते हैं, लेकिन जब आप चार दिवसीय मैच खेलते हैं और लंबी पारी खेलते हैं तो यह आपके स्टैमिना, आपके पैरों और आपके उस लय के लिए बढ़िया है जो आप सीमित ओवर के क्रिकेट में पाना चाहते हैं।’


बता दें कि महेंद्र सिंह धोनी बल्ले से भले ही उतना बेहतर प्रदर्शन न कर रहे हों, लेकिन उनकी मौजूदगी कप्तान विराट कोहली और उनकी अनुपस्थिति में कमान संभालने वाले रोहित शर्मा के लिए बहुत फायदेमंद साबित होती है। खेल से जुड़े रणनीतिक फैसलों पर धोनी की राय को दोनों ही खिलाड़ी बेहद अहमियत देते हैं और इसका मैदान पर फायदा होता भी नजर आया है। कोहली या शर्मा ही क्यों, अन्य क्रिकेटरों ने भी धोनी की राय से फायदा मिलने की बात कही है। इस साल, धोनी ने 9 वनडे पारी में 27 के औसत से 189 रन बनाए हैं। उनका अधिकतम स्कोर 42 रन रहा है। आखिर के ओवरों में विस्फोटक बल्लेबाजी की उम्मीद रहती है, ऐसे में धोनी का प्रदर्शन टीम इंडिया की चिंता बढ़ाने वाला है। 

Todays Beets: