Monday, October 22, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

गावस्कर की धोनी को घरेलू क्रिकेट में जाकर खेल सुधारने की सलाह, कहा- ऐसा कर टीम इंडिया में दावेदारी मजबूत होगी

सुनीता गौड़
गावस्कर की धोनी को घरेलू क्रिकेट में जाकर खेल सुधारने की सलाह, कहा- ऐसा कर टीम इंडिया में दावेदारी मजबूत होगी

नई दिल्ली । पूर्व क्रिकेटर और दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने विश्व के सबसे बेहतर फिनिशर कहे जाने वाले क्रिकेट जगत के कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी को एक बड़ी सलाह दी है। पिछले कुछ समय में अपने नाम के अनुकूल प्रदर्शन नहीं कर पाने पर  सुनील गावस्कर ने धोनी को सलाह दी है कि वह घरेलू क्रिकेट में लौटें ताकि वह अपनी पुरानी फॉर्म को दोबारा से हासिल कर सकें। ऐसा करके वह अपनीटीम इंडिया में दावेदारी को मजबूती से रख सकेंगे।

इंडिया टुडे से बातचीत में जब गावस्कर से पूछा गया कि क्या धोनी को घरेलू क्रिकेट में खेलना चाहिए तो उन्होंने कहा, ‘हां, बिलकुल। धोनी को डोमेस्टिक क्रिकेट खेलना चाहिए और चार दिवसीय क्रिकेट भी खेलना चाहिए क्योंकि वह झारखंड के कई उभरते क्रिकेटरों की मदद करेंगे। 50 ओवर के खेल में आपके पास सीमित मौके होते हैं, लेकिन जब आप चार दिवसीय मैच खेलते हैं और लंबी पारी खेलते हैं तो यह आपके स्टैमिना, आपके पैरों और आपके उस लय के लिए बढ़िया है जो आप सीमित ओवर के क्रिकेट में पाना चाहते हैं।’


बता दें कि महेंद्र सिंह धोनी बल्ले से भले ही उतना बेहतर प्रदर्शन न कर रहे हों, लेकिन उनकी मौजूदगी कप्तान विराट कोहली और उनकी अनुपस्थिति में कमान संभालने वाले रोहित शर्मा के लिए बहुत फायदेमंद साबित होती है। खेल से जुड़े रणनीतिक फैसलों पर धोनी की राय को दोनों ही खिलाड़ी बेहद अहमियत देते हैं और इसका मैदान पर फायदा होता भी नजर आया है। कोहली या शर्मा ही क्यों, अन्य क्रिकेटरों ने भी धोनी की राय से फायदा मिलने की बात कही है। इस साल, धोनी ने 9 वनडे पारी में 27 के औसत से 189 रन बनाए हैं। उनका अधिकतम स्कोर 42 रन रहा है। आखिर के ओवरों में विस्फोटक बल्लेबाजी की उम्मीद रहती है, ऐसे में धोनी का प्रदर्शन टीम इंडिया की चिंता बढ़ाने वाला है। 

Todays Beets: