Tuesday, December 11, 2018

Breaking News

   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||   बाबा रामदेव रांची में खोलेंगे आचार्यकुलम, क्लास 1 से क्लास 4 तक मिलेगी शिक्षा     ||   मैंने महिलाओं व अन्य वर्गों के लिए काम किया, मेरा काम बोलेगा: वसुंधरा राजे     ||   बजरंगबली पर दिए गए बयान को लेकर हिन्दू महासभा ने योगी को कानूनी नोटिस भेजा     ||   पीएम मोदी 3 द‍िसंबर को हैदराबाद में लेंगे पब्ल‍िक मीट‍िंग     ||   भगत स‍िंह आतंकवादी नहीं, हमारे देश को उन पर गर्व है- फारुख अब्दुल्ला     ||   अन‍िल अंबानी की जेब में देश का पैसा जा रहा है-राहुल गांधी     ||    दिल्ली: TDP नेता वाईएस चौधरी को HC से राहत, गिरफ्तारी पर रोक     ||    पूर्व क्रिकेटर अजहर तेलंगाना कांग्रेस समिति के कार्यकारी अध्यक्ष बनाए गए     ||   किसानों को कांग्रेस ने मजबूर और बीजेपी ने मजबूत बनाया: PM मोदी     ||

टीम में जगह पाना है तो देना होगा ‘यो-यो टेस्ट, पास नहीं होने पर होंगे बाहर

अंग्वाल न्यूज डेस्क
टीम में जगह पाना है तो देना होगा ‘यो-यो टेस्ट, पास नहीं होने पर होंगे बाहर

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों को अब टीम में अपनी जगह पक्की करने के लिए कड़ी परीक्षा देनी होगी। अफगानिस्तान और इंग्लैंड के साथ होने वाले मैचों क से पहले टीम में शामिल सभी खिलाड़ियों को ‘यो-यो टेस्ट’ देना होगा। जाो खिलाड़ी यो-यो टेस्ट में पास होगा उसे ही टीम में रहने का मौका मिलेगा और जा पास नहीं होगा उसे टीम से बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा। एक खबर के अनुसार अफगानिस्तान के खिलाफ खेलने वाली टेस्ट टीम के खिलाड़ियों का यो-यो टेस्ट शनिवार एवं रविवार को होगा जबकि आयरलैंड और इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों का टेस्ट 15 जून को होगा।

गौरतलब है कि इस खबर के अनुसार जो खिलाड़ी इस टेस्ट को पास नहीं कर पाएगा उसे टीम इंडिया से बाहर कर दिया जाएगा। बता दें कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर टीम इंडिया का प्रतिनिधित्व करने के लिए यो-यो टेस्ट पास करना जरूरी हो गया है। टीम के पिछले श्रीलंका दौरे पर इस व्यवस्था को लागू किया गया था। बता दें कि टीम के स्टार खिलाड़ी रहे युवराज सिंह और सुरेश रैना इस टेस्ट में फेल होने की वजह से ही टीम से बाहर हुए थे।   

ये भी पढ़ें - भारतीय कप्तान कोहली का कद हुआ और ‘विराट’, 12 जून को बीसीसीआई इस पुरस्कार से करेगा सम्मानित

यहां गौर करने वाली बात है कि सुरेश रैना कुछ समय बाद अपनी फिटनेस साबित कर टीम में जगह बनाने में कामयाब रहे। उन्हें दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी-20 इंटरनेशनल सीरीज के लिए चुना गया था। वहीं युवी ने टेस्ट तो पास किया, लेकिन उन्हें मौका इसलिए नहीं मिला क्योंकि पूरे सीजन में उन्होंने सिर्फ एक रणजी ट्रॉफी मैच खेला था। फिलहाल टीम इंडिया को अफगानिस्तान के साथ एक मात्र टेस्ट मैच खेलना है। इसके बाद टीम का आयरलैंड दौरा होगा जहां वह 2 टी-20 मैच खेलेगी। आयरलैंड के बाद टीम 3 जुलाई को इंग्लैंड का दौरा शुरू करेगी। 


क्या है टेस्ट पास करने का पैरामीटर

खबरों के अनुसार जिन खिलाड़ियों को अपनी जगह टीम में बनाए रखना है, उन्हें यो-यो टेस्ट में 16.1 का मार्क पास करना होगा। यह सभी खिलाड़ियों के लिए अनिवार्य बेंचमार्क है और जो भी इसमें पास नहीं होगा उसे टीम से बाहर कर दिया जाएगा। सबसे पहले उन खिलाड़ियों का टेस्ट होगा, जो अफगानिस्तान के खिलाफ एकमात्र टेस्ट में टीम इंडिया का हिस्सा हैं। इसके बाद इंग्लैंड और आयरलैंड दौरे के लिए चयनित खिलाड़ियों का टेस्ट होगा। गर्दन की चोट से परेशान कप्तान विराट कोहली का आयरलैंड व इंग्लैंड भी सीमित ओवर सीरीज में उनका खेलना संदिग्ध लग रहा है। 

 

Todays Beets: