Friday, October 20, 2017

Breaking News

   पटना पहुंचे मोहन भागवत, यज्ञ में भाग लेने जाएंगे आरा, नीतीश भी जाएंगे    ||   अखिलेश को आया चाचा शिवपाल का फोन, कहा- आप अध्यक्ष हैं आपको बधाई    ||   अमेरिका में सभी श्रेणियों में H-1B वीजा के लिए आवश्यक कार्रवाई बहाल    ||   रोहिंग्या पर किया वीडियो पोस्ट, म्यांमार की ब्यूटी क्वीन का ताज छिना    ||   अब गेस्ट टीचरों को लेकर CM केजरीवाल और LG में ठनी    ||   केरल में अमित शाह के बाद योगी की पदयात्रा, राजनीतिक हत्याओं पर लेफ्ट को घेरने की रणनीति    ||   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||

शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने में योगदान देने वाले 46 शिक्षकों को मुख्यमंत्री ने किया सम्मानित

अंग्वाल न्यूज डेस्क
शिक्षा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने में योगदान देने वाले 46 शिक्षकों को मुख्यमंत्री ने किया सम्मानित

देहरादून। राज्य की खस्ताहाल शिक्षा व्यवस्था के बीच शिक्षा की गुणवत्ता और स्तर को बनाए रखने वाले शिक्षकों का सम्मान किया गया। उत्तराखंड विज्ञान शिशु एवं अनुसंधान केंद्र (यूसर्क) की ओर से आयोजित कार्यक्रम में विशिष्ट कार्य करने वाले 46 शिक्षकों को सम्मानित किया गया। इसके अलावा ‘विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी आधारित शिक्षा से उत्तराखंड में बौद्धिक वैज्ञानिक उन्नयन’ विषय पर एक सेमिनार का भी आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री भी बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए और शिक्षकों को सम्मानित किया।

शिक्षा का तकनीक से जुड़ाव

गौरतलब है कि उत्तराखंड विज्ञान शिशु एवं अनुसंधान केंद्र के निदेशक ने दूरस्थ शिक्षण संस्थानों में तकनीक आधारित शिक्षा के माध्यम से यूसर्क द्वारा किए जा रहे कार्यों की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि राज्य के सभी ब्लॉकों में नए अनुसंधान  कार्यक्रम के लिए आईसीटी समन्वयक बनाने की घोषणा की। कहा कि आईसीटी समन्वयक प्रदेश में ग्राम सभी स्तर तक विज्ञान आधारित शिक्षा को पहुंचाएंगे। 

ये भी पढ़ें - डब्लूआईटी में हड़ताली शिक्षकों का मामला नहीं सुलझ रहा, मंत्री और प्रदेश अध्यक्ष ने दिया जल्द क...

सीएम ने की तारीफ


आपको बता दें कि इस कार्यक्रम में राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने भी बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। शिक्षा को बेहतर बनाने मंे अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान देने वाले शिक्षकों को सीएम ने पुरस्कृत भी किया। इस मौके पर अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने शिक्षा की गुणवत्ता को बनाए रखने के लिए यूसर्क द्वारा किए जा रहे प्रयासों की काफी सराहना की।  

दून के इन शिक्षकों का हुआ सम्मान

यासीन मोहम्मद, सेवानिवृत,  रामेश बडोनी, राइंका मसराज, कृष्णा खुराना, सेवानिवृत, जेपी डोभाल, राइंका, दूधली, विजय लक्ष्मी सिमल्टी गैरोला, राबाइंका, कारगी, राजेश्वरी रौतेला, राजूहा, नकरौंदा, आभा गौड़, अजबपुर कलां, हुकुम सिंह उनियाल, जूहा, राजपुर रोड, आरबी सिंह, प्रधानाचार्य राइंका नागथात,  टीएस बासकंडी, सहसपुर, बीएस राणा, प्रधानाचार्य शीशमबाड़ा, दीपा सेमवाल, जूहा, दीपनगर, परमबीर सिंह कठैत, सहायक अध्यापक, डा. एसएस राणा, रानवि रायपुर, केपी भट्ट, बुरांसखंडा, सुप्रिय बहुखंडी, पजिटीलानी कालसी, सनवर अली, सेवानिवृत, सर्वेश्वर पाथरी, राइंका गढीश्यामपुर और जसपाल सिंह नेगी, राइंका रानीपोखरी देहरादून

 

Todays Beets: