Thursday, October 18, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

टिहरी के स्वास्थ्य विभाग में भर्ती में हुआ गड़बड़झाला, छात्रों ने की जांच की मांग

अंग्वाल न्यूज डेस्क
टिहरी के स्वास्थ्य विभाग में भर्ती में हुआ गड़बड़झाला, छात्रों ने की जांच की मांग

देहरादून। उत्तराखंड में एक के बाद एक घोटाला सामने आ रहा है। अब टिहरी में सीनियर ट्रीटमेंट सुपरवाइजरों की भर्ती मामले में गड़बड़झाले का पता चला है। स्वास्थ्य विभाग ने चयन समिति के अभिलेखों में पैन से कटिंग की बात स्वीकार कर ली। यही नहीं, इस पर किसी अधिकारी के हस्ताक्षर तक नहीं हैं। बता दें कि टिहरी के स्वास्थ्य विभाग में बिना योग्यता के ही भर्ती करने का आरोप है।

दस्तावेजों में छेड़छाड़

गौरतलब है कि राष्ट्रीय क्षय रोग नियंत्रण कार्यक्रम के तहत पिछले साल अगस्त माह में स्वास्थ्य विभाग ने 4 पदों पर भर्ती निकाली थी। परीक्षा के बाद 31 सितंबर को जब इसका परिणाम आया तो इससे नाराज होकर मनीष सिंह और पवन चंद रमोला ने डीएम से भर्ती में गड़बड़ी की शिकायत कर दी। इसके साथ ही उन्होंने समाधान पोर्टल पर भी शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने आरोप लगाया था कि पद के लिए मांगी गई योग्यता न होने के बावजूद कुछ लोगों को नियुक्तियां दे दी गईं। उन्होंने चयन समिति के दस्तावेजों में पैन से छेड़छाड़ का आरोप भी लगाया है।

ये भी पढ़ें -पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी ने लोगों की मुसीबतें बढ़ाईं, आने वाले 24 घंटे रहेंगे भारी


जांच की मांग

आपको बता दें कि अब सीएमओ दफ्तर ने समाधान पोर्टल पर दस्तावेजों में पैन से कटिंग की बात स्वीकारी है। ऐसे में अभ्यर्थियों ने डीएम से इस मामले की जांच की मांग की है। वहीं टिहरी की डीएम सोनिका का कहना है कि विभाग से लिखित जवाब मिलने के बाद इसे जांच में शामिल किया जाएगा। 

 

Todays Beets: