Wednesday, January 23, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

उत्तराखंड के एपीएल कार्डधारकों को सरकार जल्द ही देगी बड़ी राहत, सस्ते गल्ले की दुकानों से मिलने वाले चावल की कीमत 4 रुपये प्रतिकिलो होगी कम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तराखंड के एपीएल कार्डधारकों को सरकार जल्द ही देगी बड़ी राहत, सस्ते गल्ले की दुकानों से मिलने वाले चावल की कीमत 4 रुपये प्रतिकिलो होगी कम

देहरादून। उत्तराखंड में गरीबी रेखा से ऊपर रहने वाले एपीएल राशन कार्ड धारकों सरकार की तरफ से जल्द ही बड़ी खुशखबरी देने वाली है। प्रदेश सरकार राशन के सस्ते गल्ले की दुकान से मिलने वाले चावलों की कीमतों में 4 रुपये कम करने के लिए तैयार हो गई है। अब एपीएल राशन कार्ड धारकों को 11 रुपये प्रति किलोग्राम के हिसाब से सस्ते गल्ले की दुकानों पर चावल मिलेगा। खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की ओर से जल्द ही इस संबंध में शासनादेश जारी किया जाएगा। 

गौरतलब है कि कांग्रेस के शासनकाल में एपीएल राशन कार्डधारकों को चावल 8 रुपये 45 पैसे प्रति किलो और गेहूं 6 रुपये 60 पैसे प्रतिकिलो के हिसाब से दिया जा रहा था। साल 2017 में भाजपा के शासन में आने के बाद चावल की कीमतों को 15 रुपये प्रतिकिलो कर दिया गया और गेहूं को 8 रुपये 30 पैसे प्रतिकिलो कर दिया गया। कांग्रेस ने सरकार के द्वारा बढ़ाए गए दामों का जमकर विरोध किया। भाजपा सरकार द्वारा कीमतों में इजाफा करने के पीछे यह दलील दी गई कि राशन को उपभोक्ताओं तक पहुंचाने के लिए ढुलाई भाड़े पर आने वाले खर्च की वजह से 4 रुपये प्रतिकिलो बढ़ाया गया था।

ये भी पढ़ें - उत्तरकाशी में टेंपो ट्रैवलर गिरा 100 फीट गहरी खाई में, 13 लोगों की मौत 2 गंभीर रूप से जख्मी

आपको बता दें कि केंद्र की ओर से राज्य खाद्य योजना के तहत चावल 8 रुपये 30 पैसे प्रतिकिलो के हिसाब से मिलता है जबकि राज्य सरकार उसे लोगों तक 15 रुपये प्रतिकिलो के हिसाब से पहुंचा रही है। एपीएल राशनकार्ड धारकों के द्वारा लगातार विरोध के बाद खाद्य आपूर्ति विभाग द्वारा सरकार को प्रस्ताव भेजा गया जिसके बाद प्रदेश सरकार चावल की कीमतों में कमी करने का फैसला लिया है। राज्य के खाद्य आपूर्ति सचिव आनंद बर्धन ने कहा कि सरकार की ओर से जल्द ही शासनादेश जारी किया जाएगा। इस आदेश के बाद अब एपीएल राशन कार्डधारकों को 11 रुपये प्रतिकिलो के हिसाब से चावल दिया जाएगा। 


 

 

Todays Beets: