Monday, November 19, 2018

Breaking News

   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||   बाजार में मंगलवार को आई बहार, सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त     ||   हिंदूराव अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में निकला सांप , हंगामा     ||   सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के आरोपों के बाद हो सकता है उनका लाइ डिटेक्टर टेस्ट    ||   देहरादून की मॉडल ने किया मुंबई में हंगामा , वाचमैन के साथ की हाथापाई , पुलिस आई तो उतार दिए कपड़े     ||   दंतेवाड़ा में नक्सली हमला, दो जवान शहीद , दुरदर्शन के कैमरामैन की भी मौत     ||   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||

उत्तराखंड के एपीएल कार्डधारकों को सरकार जल्द ही देगी बड़ी राहत, सस्ते गल्ले की दुकानों से मिलने वाले चावल की कीमत 4 रुपये प्रतिकिलो होगी कम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तराखंड के एपीएल कार्डधारकों को सरकार जल्द ही देगी बड़ी राहत, सस्ते गल्ले की दुकानों से मिलने वाले चावल की कीमत 4 रुपये प्रतिकिलो होगी कम

देहरादून। उत्तराखंड में गरीबी रेखा से ऊपर रहने वाले एपीएल राशन कार्ड धारकों सरकार की तरफ से जल्द ही बड़ी खुशखबरी देने वाली है। प्रदेश सरकार राशन के सस्ते गल्ले की दुकान से मिलने वाले चावलों की कीमतों में 4 रुपये कम करने के लिए तैयार हो गई है। अब एपीएल राशन कार्ड धारकों को 11 रुपये प्रति किलोग्राम के हिसाब से सस्ते गल्ले की दुकानों पर चावल मिलेगा। खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की ओर से जल्द ही इस संबंध में शासनादेश जारी किया जाएगा। 

गौरतलब है कि कांग्रेस के शासनकाल में एपीएल राशन कार्डधारकों को चावल 8 रुपये 45 पैसे प्रति किलो और गेहूं 6 रुपये 60 पैसे प्रतिकिलो के हिसाब से दिया जा रहा था। साल 2017 में भाजपा के शासन में आने के बाद चावल की कीमतों को 15 रुपये प्रतिकिलो कर दिया गया और गेहूं को 8 रुपये 30 पैसे प्रतिकिलो कर दिया गया। कांग्रेस ने सरकार के द्वारा बढ़ाए गए दामों का जमकर विरोध किया। भाजपा सरकार द्वारा कीमतों में इजाफा करने के पीछे यह दलील दी गई कि राशन को उपभोक्ताओं तक पहुंचाने के लिए ढुलाई भाड़े पर आने वाले खर्च की वजह से 4 रुपये प्रतिकिलो बढ़ाया गया था।

ये भी पढ़ें - उत्तरकाशी में टेंपो ट्रैवलर गिरा 100 फीट गहरी खाई में, 13 लोगों की मौत 2 गंभीर रूप से जख्मी

आपको बता दें कि केंद्र की ओर से राज्य खाद्य योजना के तहत चावल 8 रुपये 30 पैसे प्रतिकिलो के हिसाब से मिलता है जबकि राज्य सरकार उसे लोगों तक 15 रुपये प्रतिकिलो के हिसाब से पहुंचा रही है। एपीएल राशनकार्ड धारकों के द्वारा लगातार विरोध के बाद खाद्य आपूर्ति विभाग द्वारा सरकार को प्रस्ताव भेजा गया जिसके बाद प्रदेश सरकार चावल की कीमतों में कमी करने का फैसला लिया है। राज्य के खाद्य आपूर्ति सचिव आनंद बर्धन ने कहा कि सरकार की ओर से जल्द ही शासनादेश जारी किया जाएगा। इस आदेश के बाद अब एपीएल राशन कार्डधारकों को 11 रुपये प्रतिकिलो के हिसाब से चावल दिया जाएगा। 


 

 

Todays Beets: