Friday, April 26, 2019

Breaking News

   भाजपा के संकल्प पत्र में आतंकवाद और भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई का वादा     ||   सुप्रीम कोर्ट ने लोकसभा चुनाव में ईवीएम और वीवीपैट के मिलान को पांच गुना बढ़ाया    ||    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||

टिहरी में भारी बारिश के बाद हुए भूस्खलन से बनी 50 फीट लंबी कृत्रिम झील, लोगों में दहशत का माहौल

अंग्वाल न्यूज डेस्क
टिहरी में भारी बारिश के बाद हुए भूस्खलन से बनी 50 फीट लंबी कृत्रिम झील, लोगों में दहशत का माहौल

देहरादून। उत्तराखंड के कई इलाकों में भारी बारिश का सिलसिला जारी है। टिहरी जिले में बारिश के बाद हो रहे भूस्खलन ने लोगों की मुसीबतों को और बढ़ा दिया है। पहाड़ों से मिट्टी पानी की तरह बह रहा है। इससे यहां करीब 50 फीट लंबी और 100 फीट गहरी कृत्रिम झील का निर्माण हो गया है। इस झील में पानी भरने से लोगों में दहशत का माहौल पैदा हो गया है। बता दें कि मौसम विभाग पहले ही 1 सितंबर से 3 सितंबर तक राज्य में भारी बारिश की चेतावनी जारी कर चुका है।

गौरतलब है कि प्रदेश के ज्यादातर सभी हिस्सों में इन दिनों भारी बारिश हो रही है और सभी छोटी-बड़ी नदियां अपने पूरे उफान पर हैं। हल्द्वानी की सड़कांे पर भी पानी के तेज बहाव का नजारा दिखाई दे रहा है। लोग सुरक्षा की परवाह किए बगैर जान जोखिम में डालकर सड़कों को पार कर रहे हैं। लगातार हो रही तेज बारिश की वजह से टनकपुर-पिथौरागढ़ मार्ग भी बंद हो गया है। 

ये भी पढ़ें - पहाड़ में राजनीति भविष्य तलाश रहे अखिलेश ने भाजपा पर बोला हमला, सांप्रदायिक सद्भाव के लिए खतरा बताया


यहां बता दें कि टिहरी जिले में पहाड़ों से मलबे की शक्ल में पानी बह रहा है। पहाड़ों से हो रहे भूस्खलन के चलते यहां करीब 50 फीट लंबी और 100 फीट गहरी कृत्रिम झील का निर्माण हो गया है जिससे लोगों में खौफ का माहौल है।  प्रशासन की ओर से लोगों को सावधान रहने की सलाह दी गई है। यहां आपको बता दें कि मौसम विभाग पहले ही 1 से 3 सितंबर तक राज्य में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। खासकर कोटद्वार इलाके में भीषण बारिश होने की विशेष चेतावनी दी है। 

Todays Beets: