Saturday, November 17, 2018

Breaking News

   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||   बाजार में मंगलवार को आई बहार, सेंसेक्स और निफ्टी में बढ़त     ||   हिंदूराव अस्पताल के ऑपरेशन थियेटर में निकला सांप , हंगामा     ||   सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के आरोपों के बाद हो सकता है उनका लाइ डिटेक्टर टेस्ट    ||   देहरादून की मॉडल ने किया मुंबई में हंगामा , वाचमैन के साथ की हाथापाई , पुलिस आई तो उतार दिए कपड़े     ||   दंतेवाड़ा में नक्सली हमला, दो जवान शहीद , दुरदर्शन के कैमरामैन की भी मौत     ||   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||

उत्तराखंड के 34 मेधावी छात्र-छात्राओं को मिला गवर्नर्स अवार्ड, राज्यपाल ने किया सम्मानित

अंग्वाल न्यूज डेस्क
उत्तराखंड के 34 मेधावी छात्र-छात्राओं को मिला गवर्नर्स अवार्ड, राज्यपाल ने किया सम्मानित

देहरादून। उत्तराखंड के 34 मेधावी छात्र-छात्राओं को राजभवन में गुरुवार को आयोजित ‘गवर्नर्स अवार्ड सेरेमनी-2018 के दौरान पुरस्कार से सम्मानित किया गया। राज्यपाल डाॅक्टर केके पाॅल के हाथों पुरस्कार पाकर छात्रों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। समारोह के दौरान राज्य के शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे भी मौजूद थे। इन सभी मेधावी छात्रों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘मन की बात’ पुस्तक भी प्रदान की गई। पहले स्थान पर आने वाले छात्र को 7 हजार रुपये, दूसरे स्थान पर आने वाले छात्र को 5 हजार और तीसरे पायदान पर रहने वाले छात्र को 3 हजार रुपये का नकद पुरस्कार दिया गया। 

गौरतलब है कि इस मौके पर उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले काॅलेजों को भी पुरस्कृत किया गया। प्रथम स्थान पर रहने वाले काॅलेज को 80 हजार, दूसरे स्थान वाले को 50 हजार और तीसरे स्थान पर रहने वाले काॅलेज को 30 हजार रुपये का पुरस्कार दिया गया है। काॅलेजों को मिली राशि से वहां पुस्तकालय में छात्रों के लिए किताबों की व्यवस्था की जाएगी। 

ये भी पढ़ें - स्कूल में मारपीट करने वाले प्रधानाचार्य और शिक्षिका पर विभाग सख्त, दुर्गम इलाके में किया तबादला


यहां बता दें कि पुरस्कार समारोह में छात्रों को संबोधित करते हुए शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने कहा कि मौजूदा समय में राज्य की शिक्षा व्यवस्था बहुत ज्यादा अच्छी नहीं है जिसके बारे में कुछ कहा जाए। उन्होंने कहा कि सरकार इस व्यवस्था को दुरुस्त करने की पूरी कोशिश कर रही है। वहीं राज्यपाल डाॅक्टर केके पाॅल ने कहा कि बच्चों की बेहतर शिक्षा में माता-पिता का भी काफी योगदान रहता है। गौर करने वाली बात है राज्य में गवर्नर्स अवार्ड सेरेमनी की शुरुआत 2014 से की गई है। राज्यपाल ने कहा कि इंटरनेट और मोबाइल ज्ञान में इजाफा तो कर रहे हैं लेकिन छात्रों को अखबार पढ़ने की भाी आदत डालनी चाहिए। 

 

Todays Beets: