Wednesday, August 15, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

राज्य में निर्माण कार्यों के टेंडर पर रोक, संशोधन का प्रस्ताव शासन को भेजा गया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राज्य में निर्माण कार्यों के टेंडर पर रोक, संशोधन का प्रस्ताव शासन को भेजा गया

देहरादून। राज्य में छोटे ठेकेदारों की अनदेखी करने पर राज्य सरकार को अपने ही विधायकों के विरोध का सामना करना पड़ा है। इस विरोध के बाद सरकार ने राज्य में नए टेंडरों पर रोक लगा दी है। शासन के पास ई-टेंडर पाॅलिसी में संशोधन का प्रस्ताव भेजा गया है। ई-टेंडर पॉलिसी में संशोधन तक किसी भी विभाग में ई-टेंडर जारी करने पर रोक लगा दी गई है। इससे राज्य में विकास कार्यों को थोड़ा धक्का लग सकता है।

शासनादेश में बदलाव

गौरतलब है कि प्रदेश में विकास के कार्यों में पारदर्शिता रखने के लिए ई-टेंडरिंग की पाॅलिसी अपनाई गई थी। ई-टेंडरिंग प्रक्रिया पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत, विधायक मुन्ना सिंह चौहान, वित्त सचिव, पीडब्ल्यूडी और सिंचाई विभाग के प्रमुखों के बीच 9 अगस्त को बैठक हुई थी। जिसमें 25 लाख से ऊपर के कामों के लिए ई-टेंडरिंग सहित कई बिदुओं पर सहमति बनी थी। शासनादेश में उसमें कुछ बिन्दुओं में बदलाव कर दिया गया। इस बदलाव की वजह से छोटे ठेकेदारों के हितों की अनदेखी हो रही थी। इसके बाद भाजपा के विधायकों ने ही इस पाॅलिसी का विरोध करना शुरू कर दिया था। 

ये भी पढ़ें - उत्तराखंड के कई इलाकों में भारी बर्फबारी, पर्यटक और किसान खुश, यमुनोत्री हाईवे बंद 


टेंडर को रोकने के निर्देश

यहां बता दें कि पीडब्लूडी के मुख्य अभियंता आरसी पुरोहित ने कहा कि ई-टेंडर पॉलिसी के कुछ बिंदुओं पर संशोधन की मांग मंत्री और विधायकों की ओर से की गई। संशोधन होने तक टेंडर प्रक्रियाएं रोकने के निर्देश भी वन मंत्री की ओर से दिए गए हैं। दोनों का प्रस्ताव शासन को भिजवा दिया गया है अब वहां से जो भी आदेश होगा इसके अनुसार काम किया जाएगा।

 

Todays Beets: