Friday, May 25, 2018

Breaking News

   कानपुर जहरीली शराब मामले में 5अधिकारी निलंबित     ||   अब जल्द ही बिना नेटवर्क भी कर सकेंगे कॉल, बस Wi-Fi की होगी जरुरत     ||   मौलाना मदनी ने भी की एएमयू से जिन्‍ना की तस्‍वीर हटाने की वकालत     ||   भारत-चीन सेना के बीच हॉटलाइन की तैयारी, LoC पर तनाव होगा दूर     ||   कसौली में धारा 144 लागू, आरोपित पुलिस की गिरफ्त से बाहर     ||   स्कूली बच्चों पर पत्थरबाजी से भड़के उमर अब्दुल्ला, कहा- ये गुंडों जैसी हरकत     ||   थर्ड फ्रंट: ममता, कनिमोझी....और अब केसीआर की एसपी चीफ अखिलेश यादव के साथ बैठक     ||   मायावती का पलटवार, कहा- सत्ता के अहंकार में जनता को मूर्ख समझ रही BJP; शाह के गुरू मोदी ने गिराया पार्टी का स्तर     ||   चीन के स्‍पर्म बैंक ने रखी अनोखी शर्त, सिर्फ कम्‍युनिस्‍टों का समर्थन करने वाले ही दान कर सकेंगे स्‍पर्म     ||   CBSE पेपर लीक: हिमाचल से टीचर समेत 3 गिरफ्तार, पूछताछ में हो सकता है अहम खुलासा     ||

राज्य में निर्माण कार्यों के टेंडर पर रोक, संशोधन का प्रस्ताव शासन को भेजा गया

अंग्वाल न्यूज डेस्क
राज्य में निर्माण कार्यों के टेंडर पर रोक, संशोधन का प्रस्ताव शासन को भेजा गया

देहरादून। राज्य में छोटे ठेकेदारों की अनदेखी करने पर राज्य सरकार को अपने ही विधायकों के विरोध का सामना करना पड़ा है। इस विरोध के बाद सरकार ने राज्य में नए टेंडरों पर रोक लगा दी है। शासन के पास ई-टेंडर पाॅलिसी में संशोधन का प्रस्ताव भेजा गया है। ई-टेंडर पॉलिसी में संशोधन तक किसी भी विभाग में ई-टेंडर जारी करने पर रोक लगा दी गई है। इससे राज्य में विकास कार्यों को थोड़ा धक्का लग सकता है।

शासनादेश में बदलाव

गौरतलब है कि प्रदेश में विकास के कार्यों में पारदर्शिता रखने के लिए ई-टेंडरिंग की पाॅलिसी अपनाई गई थी। ई-टेंडरिंग प्रक्रिया पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत, विधायक मुन्ना सिंह चौहान, वित्त सचिव, पीडब्ल्यूडी और सिंचाई विभाग के प्रमुखों के बीच 9 अगस्त को बैठक हुई थी। जिसमें 25 लाख से ऊपर के कामों के लिए ई-टेंडरिंग सहित कई बिदुओं पर सहमति बनी थी। शासनादेश में उसमें कुछ बिन्दुओं में बदलाव कर दिया गया। इस बदलाव की वजह से छोटे ठेकेदारों के हितों की अनदेखी हो रही थी। इसके बाद भाजपा के विधायकों ने ही इस पाॅलिसी का विरोध करना शुरू कर दिया था। 

ये भी पढ़ें - उत्तराखंड के कई इलाकों में भारी बर्फबारी, पर्यटक और किसान खुश, यमुनोत्री हाईवे बंद 


टेंडर को रोकने के निर्देश

यहां बता दें कि पीडब्लूडी के मुख्य अभियंता आरसी पुरोहित ने कहा कि ई-टेंडर पॉलिसी के कुछ बिंदुओं पर संशोधन की मांग मंत्री और विधायकों की ओर से की गई। संशोधन होने तक टेंडर प्रक्रियाएं रोकने के निर्देश भी वन मंत्री की ओर से दिए गए हैं। दोनों का प्रस्ताव शासन को भिजवा दिया गया है अब वहां से जो भी आदेश होगा इसके अनुसार काम किया जाएगा।

 

Todays Beets: