Tuesday, September 19, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

अब राज्य में अधिकारियों को नहीं मिलेगा सेवा विस्तार, दो पुलिस अफसरों का समय से पहले समाप्त हुआ कार्यकाल

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब राज्य में अधिकारियों को नहीं मिलेगा सेवा विस्तार, दो पुलिस अफसरों का समय से पहले समाप्त हुआ कार्यकाल

देहरादून। सेवा समाप्ति के बाद सेवा विस्तार देने के लाभ को उत्तराखंड की सरकार ने खत्म करना शुरू कर दिया है। सरकार ने कांग्रेस के समय दो पुलिस अफसरों को दिए गए सेवा विस्तार को समय से पहले ही समाप्त कर दिया है। प्रमुख सचिव (गृह) आनंदबर्धन ने इसके आदेश जारी कर दिए हैं। 

सेवा विस्तार का लाभ खत्म

गौरतलब है कि अपर पुलिस अधीक्षक जीसी ध्यानी 31 अक्तूबर, 16 को सेवानिवृत्त हो चुके थे लेकिन तत्कालीन सरकार ने उन्हें एक साल का सेवा विस्तार दिया था जो इसी साल अक्टूबर में समाप्त होने वाला है लेकिन सरकार ने इसे उनकी सेवानिवृत्ति से पहले 30 सितंबर 2017 से समाप्त कर दिया है। वहीं, अपर पुलिस अधीक्षक टीडी वैला को कांग्रेस सरकार में दो-दो बार सेवा विस्तार का लाभ मिला था। वैला को 1 जुलाई 2015 को रिटायर होते ही एक साल का एक्सटेंशन मिल गया था। इसके एक साल बाद फिर उन्हें जनवरी, 2017 तक सेवा विस्तार दे दिया था। फिलहाल वे पीएसी रुद्रपुर में तैनात हैं। कांग्रेस कार्यकाल में वैला चर्चित अफसरों में शामिल रहे। सरकार ने उनका सेवा विस्तार भी 30 सितंबर के बाद खत्म कर दिया है। सेवा विस्तार देने की परंपरा पर त्रिवेंद्र सरकार का यह पहला वार है। 


ये भी पढ़ें - राज्य में पर्यटन विकास को लग सकता है धक्का, कर्मचारी अपनी मांगें मनवाने के लिए पर्यटन एकीकरण ...

 

Todays Beets: