Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

दून में दिखा पुलिस का ‘बेरहम’ चेहरा, पिटाई से छात्र के कान का पर्दा फटा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
दून में दिखा पुलिस का ‘बेरहम’ चेहरा, पिटाई से छात्र के कान का पर्दा फटा

देहरादून। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में पुलिस का एक बेरहम चेहरा सामने आया है। कैंट पुलिस ने हेलमेट न पहनने पर एक छात्र की इस कदर पिटाई कर दी कि उसके कान का पर्दा ही क्षतिग्रस्त हो गया। मेडिकल परीक्षण में इसकी पुष्टि होने पर छात्र ने एसएसपी निवेदिता कुकरेती से मिलकर मामले की शिकायत की। एसएसपी ने सीओ नेहरू कॉलोनी को प्रकरण की जांच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा है। 

गौरतलब है कि तुषार कुमार, मारवाह लॉ कॉलेज देहरादून में एलएलबी का छात्र है। उसका आरोप है कि वह गढ़ी कैंट में बाईक से जा रहा था। उसकी गलती यह थी कि उसने हेलमेट नहीं पहन रखा था। इस दौरान एक पुलिसकर्मी ने उन्हें रोका और बुरा भला कहा। छात्र द्वारा विरोध करने पर पुलिसवालों ने बीच चैराहे पर ही उसकी पिटाई कर दी और बाद में थाने ले जाकर भी जमकर धुनाई कर दी। थाने से निकलने के बाद उसे कम सुनाई दे रहा था। दून मेडिकल कॉलेज में जांच कराने पर पता चला कि पिटाई के चलते उसके कान का पर्दा क्षतिग्रस्त हो गया है। इसके बाद पूरे मामले से एसएसपी निवेदिता कुकरेती को अवगत कराया गया।

ये भी पढ़ें - तबादला निरस्त करने पर भड़के शिक्षक, सरकार पर नाइंसाफी करने का लगाया आरोप 


यहां बता दें कि यह पहली घटना नहीं है जब पुलिस विवादों में फंसी है। पिछले हफ्ते ही यूआईटी के पूर्व छात्र से लूट के मामले में बिंदाल चैकी पर तैनात सिपाही सुशील को निलंबित किया जा चुका है। सिपाही पर अपने एक साथी के साथ मिलकर रेसकोर्स में छात्र से लूट करने का आरोप लगा था। गौर करने वाली बात है कि राज्य में पुलिस कर्मियों की भी भारी कमी है ऐसे में दून में सीओ की कमी से अफसरों की चिंता बढ़ गई है। सीओ विकासनगर पंकज गैरोला और सीओ सिटी चंद्रमोहन सिंह के अवकाश पर होने और इस महीने की 31 तारीख को सीओ नेहरू कॉलोनी के सेवानिवृत्त होने के बाद स्थिति और विकट हो जाएगी। इसे देखते हुए एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने पुलिस मुख्यालय को पत्र भेजकर देहरादून में और सीओ तैनात करने की मांग की है।

 

Todays Beets: