Thursday, November 22, 2018

Breaking News

   ऑस्ट्रेलिया के PM मॉरिशन बोले- भारत दुनिया की सबसे तेजी से आगे बढ़ती अर्थव्यवस्था     ||   पश्चिम बंगालः सिलीगुड़ी की तीस्ता नहर में 4 जिंदा मोर्टार सेल बरामद     ||   मुजफ्फरपुर बालिका गृहकांडः कोर्ट ने मंजू वर्मा को 1 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा     ||   करतारपुर साहिब कॉरिडोर को मंजूरी देने पर CM अमरिंदर ने PM मोदी को कहा- शुक्रिया     ||   करतारपुर कॉरिडोर पर मोदी सरकार की मंजूरी के बाद बोला PAK- जल्द देंगे गुड न्यूज     ||   चौदह दिनों की न्यायिक हिरासत में बिहार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा, कोर्ट में किया था सरेंडर     ||   MP में चुनाव प्रचार के दौरान शख्स ने BJP कैंडिडेट को पहनाई जूतों की माला     ||   बेंगलुरु: गन्ना किसानों के साथ सीएम कुमारस्वामी की बैठक     ||   US में ट्रंप को कोर्ट से झटका, अवैध प्रवासियों को शरण देने से नहीं कर सकते इनकार    ||   एसबीआई ने क्लासिक कार्ड से पैसे निकालने के बदले नियम    ||

पीड़ित महिला ने न्याय न मिलने पर सीएम पोर्टल पर की शिकायत, आत्मदाह की दी चेतावनी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पीड़ित महिला ने न्याय न मिलने पर सीएम पोर्टल पर की शिकायत, आत्मदाह की दी चेतावनी

देहरादून। उत्तराखंड में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर एक बड़ा सवाल उठा है। बताया जा रहा है कि यौन शोषण की पीड़ित एक महिला ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि अगर उनके साथ न्याय नहीं किया गया तो वह सीएम कार्यालय के सामने आत्मदाह कर लेगी। पीड़ित महिला ने पोर्टल पर की गई शिकायत में कहा कि उसके साथ एक युवक के द्वारा यौन शोषण किया गया। इसकी शिकायत करने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की गई। 

गौरतलब है कि उत्तराखंड में लोगांे की शिकायतों को सुनने के लिए मुख्यमंत्री पोर्टल तैयार किया गया है। पीड़ित युवती ने बताया कि लालडांठ इलाके के एक युवक ने उसे शादी का झांसा देकर उसके साथ यौन शोषण किया। इसके बाद उसे वहां से 24 जनवरी को युवक उसे घोड़ाखाल मंदिर ले गया। वहां शादी करने के बाद अपने घर ले गया। युवती के अनुसार परिवार के विरोध करने पर उसने किराए का कमरा लिया और अप्रैल में सबके सामने शादी करने का आश्वासन दिया। युवती का आरोप है कि युवक के घर वाले दहेज की मांग करते हुए मारपीट भी करते थे। अब पीड़ित युवती ने सीएम पोर्टल पर शिकायत करने के बाद भी उसकी खबर लेने के लिए किसी के नहीं पहुंचने पर मुख्यमंत्री कार्यालय के सामने आत्मदाह कर लेगी। 

ये भी पढ़ें - अब ओपीडी में आने वाले मरीजों को भी मिलेगा मुफ्त इलाज, सरकार शुरू करेगी नई बीमा योजना


गौर करने वाल बात है कि युवती के गर्भवती होने के बाद उसका गर्भपात भी कराया गया और 18 अप्रैल को मारपीट के बाद उसे घर से निकाल दिया। इसके बाद वह चौफुला चौराहे के पास रहने लगी। उसका आरोप है कि यहां भी युवक ने उसके साथ मारपीट की। अब पुलिस ने सूचना मिलने पर लड़के को गिरफ्तार कर लिया है। 

 

Todays Beets: