Monday, October 22, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

पौड़ी का सुरजीत इसरो में बना वैज्ञानिक, सेल्फ स्टडी करने वालों के लिए बने मिसाल

अंग्वाल न्यूज डेस्क
पौड़ी का सुरजीत इसरो में बना वैज्ञानिक, सेल्फ स्टडी करने वालों के लिए बने मिसाल

देहरादून। उत्तराखंड के सपूतों ने अपने हुनर और कौशल के बल पर पूरी दुनिया में अपनी धाक जमाई है। इस कड़ी में पुलिस मुख्यालय में कार्यरत गिरिबर सिंह रावत के बेटे सुरजीत रावत का नाम भी जुड़ गया है जिसका इसरो मंे वैज्ञानिक के पद पर चयन हुआ है। बता दें कि पूरे देश से चुने गए 40 छात्रों में से सुरजीत 33वें स्थान पर रहे।

घर पर रहकर ही की तैयारी

गौरतलब है कि सुरजीत मूल रूप से पौड़ी गढ़वाल के रहने वाले हैं और ग्राफिक एरा में बीटेक करने के बाद गेट की तैयारी कर रहे थे। ऑल इंडिया स्तर पर सुरजीत ने 508वीं रैंक हासिल कर आईआईटी हैदराबाद में कम्युनिकेशन एंड सिंगल प्रोसेसिंग ट्रेड से एमटेक किया। घर पर रहकर ही उसने तैयारी की और इसरो की परीक्षा दी। बता दें कि पूरे देश से करीब साढ़े 3 लाख अभ्यर्थी इस परीक्षा में शामिल हुए थे। साक्षात्कार में 12 सदस्यीय टीम ने 40 अभ्यर्थियों को फाइनल किया है। 


ये भी पढ़ें - बस एक क्लिक पर मिलेगी सरकारी स्कूलों के बारे में जानकारी, एजूकेशन पोर्टल होगा लाॅन्च

बिना कोचिंग के मिली सफलता

गौरतलब है कि परिवार के लोगों ने बताया कि सुरजीत ने कभी भी किसी भी कक्षा में कोचिंग नहीं ली है। वहीं, सुरजीत सेल्फ स्टडी कर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए भी मिसाल बन गए हैं। 

Todays Beets: