Friday, October 19, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

शिक्षक और शिक्षा विभाग के बीच खिंची तलवारें, प्रांतीय अधिवेशन के लिए शिक्षकों को नहीं मिलेगी छुट्टी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
शिक्षक और शिक्षा विभाग के बीच खिंची तलवारें, प्रांतीय अधिवेशन के लिए शिक्षकों को नहीं मिलेगी छुट्टी

देहरादून। उत्तराखंड में शिक्षकों और शिक्षा विभाग में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। शिक्षा मंत्री ने हाल ही में शिक्षक संगठनों को नसीहत दी थी कि अधिवेशन का समय सीमित करें। उन्होंने कई दिनों तक चलने वाले अधिवेशन से बचने की सलाह दी थी। अब राजकीय शिक्षक संघ के प्रांतीय अधिवेशन से पहले शिक्षा महानिदेशक ने नया फरमान जारी कर दिया है जिसमें कहा गया है कि इस अधिवेशन में सिर्फ डेलीगेट ही हिस्सा लेंगे और उन्हें ही विशेष अवकाश मान्य होंगे।  शिक्षक स्कूलों में पठन-पाठन का काम करेंगे। 

शिक्षकों को नहीं मिलेगी छुट्टी

आपको बता दें कि राजकीय शिक्षक संघ का प्रांतीय अधिवेशन 23 और 24 नवंबर को होने वाली है। विद्यालयी शिक्षा उत्तराखंड के महानिदेशक कैप्टन आलोक शेखर तिवारी ने बयान जारी कर कह दिया है कि इस दिन सिर्फ डेलीगेट्स को ही विशेष अवकाश मान्य होंगे। वहीं अन्य शिक्षक अपने स्कूलों में छात्रों को पढ़ाने का काम करेंगे। यदि कोई शिक्षक इस अवधि में स्कूलों से अनुपस्थित पाए जाते हैं जो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।  उन्होंने कहा कि राजकीय शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष व महामंत्री जनपद के मुख्य शिक्षा अधिकारी को अधिवेशन में प्रतिभाग करने वाले डेलीगेट्स की सूची उपलब्ध कराएंगे।

ये भी पढ़ें - उत्तराखंड के गढ़वाल में बड़े भूकंप की चेतावनी, वैज्ञानिकों ने जताई चिंता


फरमान संविधान के खिलाफ 

वहीं राजकीय शिक्षक संघ का कहना है कि महानिदेशक माध्यमिक शिक्षा ने आदेश निर्गत किया है कि केवल डेलीगेट्स ही अधिवेशन में प्रतिभाग करेंगे जो कि राजकीय शिक्षक संघ उत्तराखंड के संविधान के खिलाफ है। उनकी तरफ से कहा जा रहा है कि संघ का जो सदस्य है, वह अधिवेशन में प्रतिभाग कर सकता है, छात्रों की पढ़ाई का नुकसान न हो इसके लिए शिक्षकों ने पहले से ही अनुशासन का पालन करते हुए कुछ शिक्षकों को ही अधिवेशन में हिस्सा लेने के लिए भेजने का फैसला लिया है। इसके बाद भी महानिदेशक की तरफ से ऐसा आदेश देना पूरी तरह से अनुचित है।

Todays Beets: