Monday, July 16, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

रामनगर बस हादसे के बाद सामने आया एक और महिला का वीडियो, सीएम से कहा- यहां से भाग जाओ, नहीं तो पत्थर मार देंगे

अंग्वाल न्यूज डेस्क
रामनगर बस हादसे के बाद सामने आया एक और महिला का वीडियो, सीएम से कहा- यहां से भाग जाओ, नहीं तो पत्थर मार देंगे

देहरादून।  अभी जनता दरबार में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत द्वारा एक शिक्षिका को निलंबित करने का मामला शांत भी नहीं हुआ था कि उनका एक और वीडियो सामने आ गया है। इस वीडियो में 1 जुलाई को पौड़ी के धुमाकोट बस हादसे में 48 लोगों की जान चली गई। हादसे के बाद मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत मौके पर पहुंचे जहां उन्हें लोगों के गुस्से का सामना करना पड़ा।

मृतकों के परिजनों ने मुख्यमंत्री के सामने खूब हंगामा किया। वहीं इस घटना का एक वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमें एक महिला सीएम रावत को कहती दिख रही है कि, ‘यहां से भाग जाओ, नहीं तो पत्थर मार देंगे।’ वीडियो में दिखाई दे रहा है कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जब भीड़ में खड़े थे, तभी मृतकों के परिजनों में से एक महिला ने मुख्यमंत्री के सामने कहा कि, ‘यहां से भाग जाओ, नहीं तो हम पत्थर मार देंगे।’ महिला बार-बार ये कह रही थी कि ‘जब इस तरह के हादसे हो जाते हैं तब तुम दिखाई देते हो, उससे पहले तुम में से कोई दिखाई नहीं देता।’

महिला कहती है कि ‘मुख्यमंत्री तो बन जाते हो लेकिन, जनता की कोई फिक्र नहीं होती।’ सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के साथ हुई यह दूसरी घटना है जहां पर उन्हें महिला के गुस्से का शिकार होना पड़ा है। इस घटना के दौरान सीएम महिला की बात को सुनकर वहां रुके और फिर आगे चल दिए।


ये भी पढ़ें - सड़क हादसों पर सीएम का अजीबोगरीब बयान, कहा-गड्ढों के लिए डीएम होंगे जिम्मेदार

बता दें कि 1 जुलाई को उत्तराखंड में कोटद्वार में एक बस के खाई में गिरने से 48 लोगों की मौत हो गई और 13 लोग घायल हो गए। हादसे का कारण बस का ओवरलोड होना और सड़क पर बना एक गड्ढा बताया गया था। 

Todays Beets: