Wednesday, March 27, 2019

Breaking News

    दिल्लीः NGT ने जर्मन कार कंपनी वोक्सवैगन पर 500 करोड़ का जुर्माना ठोंका     ||    दिल्लीः राहुल गांधी 11 मार्च को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करेंगे     ||    हैदराबाद: टीका लगाने के बाद एक बच्चे की मौत, 16 बीमार पड़े     ||   मध्य प्रदेश के ब्रांड एंबेसडर होंगे सलमान खान, CM कमलनाथ ने दी जानकारी     ||   पाकिस्तान को FATF से मिली राहत, ग्रे लिस्ट में रहेगा बरकरार     ||   आय से अधिक संपत्ति केसः हिमाचल के पूर्व CM वीरभद्र सिंह के खिलाफ आरोप तय     ||   भीमा-कोरेगांव केसः बॉम्बे HC ने आनंद तेलतुंबड़े की याचिका पर सुनवाई 27 तक टाली     ||   हिमाचल प्रदेश: किन्नौर जिले में आया भूकंप, तीव्रता 3.5     ||   PAK सेना के ISPR के डीजी ने कहा- हम युद्ध की तैयारी नहीं कर रहे, भारत धमकी दे रहा है     ||   ICC को खत लिखेगी BCCI- आतंक समर्थक देश के साथ खत्म हो क्रिकेट संबंध     ||

आने वाले 24 घंटे उत्तराखंड पर पड़ेंगे भारी, इन जिलों में बर्फीले तूफान की चेतावनी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
आने वाले 24 घंटे उत्तराखंड पर पड़ेंगे भारी, इन जिलों में बर्फीले तूफान की चेतावनी

देहरादून। उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में हो रही जबर्दस्त बर्फबारी की वजह से पूरे प्रदेश में भीषण ठंड पड़ रही है। बुधवार शाम से केदारनाथ धाम में हो रही भारी बर्फबारी ने लोगों की मुश्किलों को और बढ़ा दिया है। इस भीषण ठंड के बीच मौसम विभाग द्वारा अगले 24 घंटे में पिथौरागढ़, चमोली, रुद्रप्रयाग और टिहरी गढ़वाल में बर्फीले तूफान की चेतावनी ने स्थानीय लोगों की परेशानियों में और इजाफा कर दिया है। प्रदेश में ठंड का आलम यह है कि उत्तरकाशी में मंदाकिनी और सरस्वती नदी का पानी जमने लगा है। ठंड से बचने के लिए लोगों के पास आग के पास बैठने के अलावा कोई चारा नहीं रह गया है। 

गौरतलब है कि राज्य के ज्यादातर इलाकों में इन दिनों भीषण शीतलहर चल रही है। ऐसे में केदारनाथ धाम में देर शाम से हो रही बर्फबारी से मैदानी इलाकों में ठंड का प्रकोप और बढ़ गया है। अब मौसम विभाग ने गुरुवार को पिथौरागढ़, चमोली, रुद्रप्रयाग और टिहरी गढ़वाल में भारी बर्फबारी के साथ बर्फीले तूफान की चेतावनी जारी कर दी है। विभाग ने इन इलाकों में रहने वालों के लिए हाई अलर्ट जारी कर दिया है। मौसम विभाग की इस चेतावनी ने लोगों को और परेशान कर दिया है। 

ये भी पढ़ें - गंगोलीहाट के गोपाल सिंह ने सेवानिवृत्ति से पहले दी शहादत, मंत्री ने परिजनों को बंधाया ढाढ़स


यहां बता दें कि पहाड़ों पर हो रही जबर्दस्त बर्फबारी की वजह से चमोली जिले में झरने और झीलों का पानी जमना शुरू हो गया है। यही हाल उत्तरकाशी जिले का भी है। यहां ठंड का आलम यह है कि लगातार बहने वाली मंदाकिनी और सरस्वती नदी का पानी भी जमने लगा है। देर शाम से बद्रीनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री, हेमकुंड साहिब, फूलों की घाटी, रुद्रनाथ, नीति और माणा घाटी की ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी होने से निचले इलाकों में भी ठंड बढ़ गई है।

Todays Beets: