Wednesday, September 23, 2020

Breaking News

   कप्तान धोनी ने IPL2020 की शुरुआत जीत से की,जानिये कैसे ?     ||   लखनऊ: यूपी में आकाशीय बिजली से हुई मौत के मामले में परिजनों को 4 लाख मुआवजा     ||   कोरोना काल में भाजपा सरकार ने अनेक ख्याली पुलाव पकाए, लेकिन एक सच भी था? -राहुल गांधी     ||   पिछले 6 महीने में भारत-चीन सीमा पर कोई घुसपैठ नहीं: राज्यसभा में गृह मंत्रालय का बयान     ||   राजस्थान: बूंदी में चंबल नदी में नाव डूबने से 6 लोगों की मौत, 12 लोगों को रेस्क्यू किया गया     ||   मुंबई: बच्चन परिवार को अतिरिक्त सुरक्षा मुहैया कराएगी मुंबई पुलिस     ||   राज्यसभा में BJP MP विनय सहस्रबुद्धे का बयान, महाराष्ट्र सरकार ही अवैध निर्माण का प्रतीक     ||   ग्रीनलैंड में सबसे बड़ा ग्लेशियर टूटा, चंडीगढ़ के बराबर बर्फ की चट्टान समुद्र में     ||   किसान बिल के विरोध पर बोले नड्डा- कांग्रेस पहले समर्थन में थी, अब राजनीति कर रही     ||   राजस्थान में फिर सियासी ड्रामा, BJP के बहाने गहलोत-पायलट में ठनी     ||

सरकार चाहे तो लोकसभा-विधानसभा चुनाव साथ करा सकते हैं - चुनाव आयोग

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सरकार चाहे तो लोकसभा-विधानसभा चुनाव साथ करा सकते हैं - चुनाव आयोग

भोपाल। चुनाव आयोग ने देश में लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराने के लिए अपनी तैयारियों के बारे में बताया। इलेक्शन कमिश्नर ओपी रावत ने कहा कि हम देश में लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराने की तैयारी सितंबर 2018 तक पूरी कर लेंगे। हालांकि लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराए जाएं या नहीं इसके बारे में अंतिम फैसला सरकार ही लेगी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने चुनाव आयोग से दोनों चुनाव एक साथ कराए जाने के बारे में पूछा था कि आयोग के पास इसके लिए क्या व्यवस्था है। इतना ही नहीं आयोग को इसके लिए किन चीजों की जरूरत पड़ेगी। आयोग की मांग पर केंद्र सरकार ने पिछले महीने 15,400 करोड़ रुपये आयोग को दिए हैं।

इलेक्शन कमिश्नर ओपी रावत ने कहा इस बार ईआरओ-नेट का शुभारंभ किया है। यह ऐसी व्यवस्था है जिससे देश के ईआरओ एक साथ जुड़ जाएंगे। इस सब के लिए आयोग के कर्मचारियों को इस नई तकनीक की ट्रेनिंग के साथ ही उसकी पूरी जानकारी दी जाएगी।


चुनावों के बारे में बताते हुए रावत ने बताया कि दोनों चुनाव एक साथ कराने के लिए 40-40 लाख ईवीएम और वीपीपीटी मशीनों की जरूरत है। ऐसे में चुनाव आयोग ने मशीनों के लिए दो कंपनियों को कॉन्ट्रेक्ट दे दिया है। गुजरात और हिमाचल प्रदेश में चुनाव की तारीखों को लेकर उन्होंने कहा कि दोनों राज्यों में चुनाव की तैयारियां पूरी होते ही चुनाव की घोषणा हो जाएगी।

Todays Beets: