Tuesday, May 24, 2022

Breaking News

    रोडरेज मामले में सिद्धू को 1 साल कठोर कारावास की सजा, SC ने 34 साल पुराने केस में सुनाई सज़ा    ||   बिहार विधानसभा में कानून व्यवस्था को लेकर हंगामा, CPI-ML के 12 विधायकों को किया गया बाहर     ||   गौतमबुद्ध नगर के तीनों प्राधिकरणों के 49,500 करोड़ नहीं चुका रहीं रियल एस्टेट कंपनियां     ||   आंध्र प्रदेश: गुड़ी पड़वा के जश्न के दौरान भक्तों के बीच मंदिर में मारपीट, दुकानों में तोड़फोड़-आगजनी     ||   दिल्ली एयरपोर्ट पर रोके जाने के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट पहुंचीं राणा अयूब     ||   सोनिया गांधी ने बोला केंद्र पर हमला, लगाया MGNREGA का बजट कम करने का आरोप     ||   केजरीवाल के आवास पर हमला: दिल्ली HC पहुंची AAP, एसआईटी गठन की मांग की     ||   राज्यसभा जा सकते हैं शिवपाल यादव! दो दिन से जारी है बीजेपी मुलाकातों का दौर     ||   यूपी हज समिति के अध्यक्ष बने मोहसिन रजा, राज्यमंत्री का भी दर्जा मिला     ||   दिल्ली: नई शराब नीति के विरोध में BJP, पटेल नगर समेत 14 जगहों पर शराब की दुकानें की सील     ||

अब स्वामी प्रसाद मौर्य ने बिगाड़े सपा के समीकरण , बाहरियों के आने से कई सपाइयों के टिकट पर चलेगी कैंची

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब स्वामी प्रसाद मौर्य ने बिगाड़े सपा के समीकरण , बाहरियों के आने से कई सपाइयों के टिकट पर चलेगी कैंची

लखनऊ । उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 (up assembly election 2022) में इस समय जहां दलबदल का दौर जारी है , वहीं इस समय टिकटों के बंटवारे को लेकर भी सियासी दलों के भीतर गतिरोध जारी है । भाजपा को झटका देकर सपा में शामिल हुए पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य समेत अन्य मंत्रियों और विधायकों ने अब समाजवादी पार्टी के भीतर के समीकरण बिगाड़ दिए हैं । हालिया घटनाक्रम में मौर्य के साथ ही भाजपा से इस्तीफा देकर सपा में गए नेताओं के टिकट को लेकर अब सपा के भीतर हलचल मच गई है । इन ''बाहरी'' नेताओं के ठीक चुनाव से पहले सपा में आने पर अब पार्टी के कुछ नेताओं के टिकट कटने की नौबत आ गई है , वहीं कुछ नेताओं की सीट बदलने की भी प्रक्रिया जारी है । इसने जहां सपा की नींद उड़ा दी है , वहीं यह खबर भाजपा के लिए भी थोड़ी राहत देने वाली तो है ।

कुछ सीटों पर फायदा कुछ पर नुकसान की आशंका

भाजपा में रहकर दलित और पिछड़ों की राजनीति करने वाले कुछ नेताओं के सपा में शामिल होने के बाद यह बात तो साफ हो गई है कि सपा को कुछ सीटों पर लाभ होने वाला है । लेकिन इन सपा नेताओं के आने से सपा के भीतर नेताओं को समीकरण बदले हैं , उससे सपा को कुछ सीटों पर नुकसान की भी बात कही जा रही है । 

जानें किन सीटों पर मौर्य के समर्थक नेताओं की दावेदारी

असल में मौर्य के साथ भाजपा छोड़कर सपा में शामिल हुए नेताओं ने , पार्टी के भीतर लंबे समय तक अपनी सीटों पर काम कर रहे नेताओं की चिंता बढ़ा दी है । इनमें  शाहजहांपुर सीट से विधायक रोशनलाल शर्मा , -सिद्धार्थनगर से चौधरी अमर सिंह , सिकोहाबाद से मुकेश वर्मा , बिधूना विधानसभा सीट से विनय शाक्य , बांदा से बृजेश कुमार प्रजापति , इनके साथ कई पूर्व विधायक ने मौर्य के साथ सपा की सदस्यता ग्रहण की है , जो इस बार चुनाव लड़ने की जुगत में हैं । ऐसे में सपा की कई सीटों पर पहले से अपनी दावेदारी ठोक चुके सपा नेताओं के लिए इन नेताओं ने चुनौती खड़ी कर दी है , जो सपा के लिए भी समस्या है । 


इनके सपा नेताओं के लिए सीधी सीधी चुनौती...

- रायबरेली जिले की ऊंचाहार सीट से सपा के दो बार के विधायक मनोज पांडे इस बार फिर से चुनाव लड़ने की पूरी तैयारी कर चुके हैं , लेकिन अब उनके सामने समस्या यह है कि इसी सीट से स्वामी प्रसाद मौर्य के बेटे उत्कृष्ट मौर्य ने भी अपनी दावेदारी पहले से ठोक रखी है । मौजूदा सिसायी समीकरणों में स्वामी प्रसाद मौर्य का कद ऊंचा हो गया है , ऐसे में उनके बेटे के सियासी मैदान में उतरने पर मनोज पांडे पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। 

- स्वामी प्रसाद मौर्य के साथ पिछले दिनों जलालाबाद के पूर्व विधायक नीरज मौर्य ने भी सपा ज्वाइन की थी । ऐसे में अब इस सीट पर सपा विधायक शरद वीर सिंह के सामने संकट यह आ गया है कि नीरज मौर्य भी चुनाव लड़ना चाहते हैं । शरद वीर सिंह गत दिनों अखिलेश यादव से मुलाकात करने लखनऊ गए थे , लेकिन वह सपा अध्यक्ष से मुलाकात नहीं कर पाए । इस सीट पर अनिल मौर्य जो 2012 में बसपा के टिकट से विधायक बने थे , पहले भाजपा में गए थे और वह सपा में आ गए हैं , वह भी इस सीट पर अपने लिए कुछ देख रहे हैं । 

- औरेया की बिधूना सीट से विधायक विनय शाक्य भाजपा छोड़ मौर्य के साथ सपा में शामिल हो गए हैं । इस सीट पर सपा के टिकट पर डॉक्टर नवल किशोर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे थे । लेकिन अब इस सीट से विनय शाक्य के भाई देवेश शाक्य चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं , ऐसे में अब नवल किशोर के टिकट पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं । खास बात यह भी है कि नवल किशोर की शादी स्वामी प्रसाद मौर्य की बेटी संघमित्रा के साथ हुई थी , लेकिन पिछले साल दोनों का तलाक हो गया । 

 

samajwadi party    mla in up    SP mla    manoj pandey    sharad veer singh seat sharing    swami prasad maurya    samajwadi party ticket    political challenges for Samajwadi Party MLA    UP assembly election 2022    up election 2022    Election 2022    rita bahuguna joshi ready to resign    BJP central leadership    bjp mp    rita bahuguna joshi announce    congress mla joined bjp    SP mla joined bjp    akhilesh yadav    samajwadi party chief    seat sharing    jayant chaoudhary    op rajbhar   sanjay chauhan    swami prasad maurya    maurya quit BJP    swami prasad maurya join SP    up election 2022    up assembly elections    senior leader    bjp leaders    sp    samajwadi party     yogi cabinet    up election candidate list    akhilesh yadav    kaishav prashad maurya    swami prasad maurya daughter    news in hindi    hindi khaber    political news     national news    यूपी चुनाव    उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव    यूपी चुनाव 2022    समाजवादी पार्टी    स्वामी प्रसाद मौर्य    सपा में शामिल हुए मौर्य    स्वामी प्रसाद मौर्य की बेटी    भाजपा    योगी सरकार    योगी कैबिनेट से इस्तीफा    भाजपा विधायकों के इस्तीफे    भाजपा उम्मीदवारों की सूची    भाजपा से इस्तीफा    खबरें हिंदी में    राष्ट्रीय खबर    Samajwadi party alliance    SP alliance    ओपी राजभर    संजय चौहान    नवाब मलिक    इमरान मसूद    शिवपाल यादव    शिवपाल का बेटा आदित्य    SP    Congress    BJP    Naresh Saini    Hari Om Yadav    Dharmpal    UTTAR PRADESH    आयुष मंत्री    मुकेश वर्मा    शिकोहाबाद से भाजपा विधायक    पंजाब विधानसभा चुनाव    भगवंत मान    मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार    केजरीवाल का ऐलान    अरविंद केजरीवाल    रीता बहुगुणा जोशी    लखनऊ कैंट सीट    भाजपा सांसद    इस्तीफे की पेशकश   

Todays Beets: