Wednesday, July 17, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

अब साल में 2 बार नहीं एक बार ही होगा ‘नीट’, आॅनलाइन नहीं आॅफलाइन होगी परीक्षा

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब साल में 2 बार नहीं एक बार ही होगा ‘नीट’, आॅनलाइन नहीं आॅफलाइन होगी परीक्षा

नई दिल्ली। नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (एनईईटी) अब साल में 2 बार की जगह 1 बार ही होगी। सरकार ने मंगलवार देर शाम इसका फैसला लिया है। केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय ने कहा कि अब साल में एक बार ही इस परीक्षा का आयोजन किया जाएगा और यह परीक्षा ऑनलाइन की जगह पेन एंड पेपर मोड (ऑफलाइन) में ही आयोजित की जाएगी। बता दें कि जेईई की प्रक्रिया में कोई बदलाव नहीं किया गया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा लिखे गए पत्र के बाद मंत्रालय ने इसमें बदलाव किया गया है।

गौरतलब है कि सरकार की ओर से एनईईटी 2019 में होने वाली परीक्षाओं की तारीखों का ऐलान भी कर दिया गया है। केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि विचार करने के बाद यह फैसला लिया गया है कि परीक्षा एक ही बार कराई जाएगी। सरकार ने एनईईटी की परीक्षा आॅनलाइन कराने का फैसला भी वापस ले लिया है अब यह परीक्षा आॅफलाइन कराई जाएगी। 

ये भी पढ़ें - बकरीद के मौके पर भी बाज नहीं आ रहे पत्थरबाज, अनंतनाग में सुरक्षाबलों को बनाया निशाना, 10 लोग घायल 


यहां बता दें कि एनईईटी 2019 के लिए रजिस्ट्रेशन इस साल 1 नवंबर से शुरू होगा। परीक्षा अगले साल 5 मई को आयोजित की जाएगी। इंजीनियरिंग के लिए होने वाला ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जाम (जेईई) में किसी प्रकार का कोई बदलाव नहीं किया गया है। यह परीक्षा साल में 2 बार ही आयोजित की जाएगी। 

 

गौर करने वाली बात है कि एनईईटी  की परीक्षा 2 बार कराने के फैसले को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने मानव संसाधन मंत्रालय को पत्र लिखकर कहा था कि ऐसा होने से छात्रों पर दवाब बढ़ सकता है। इसके साथ ही आॅनलाइन परीक्षा के आयोजन से ग्रामीण इलाकों के छात्रों के प्रभावित  होने की भी बातें कहीं गई थी। स्वास्थ्य मंत्रालय की चिट्ठी पर गौर करने के बाद अब एनईईटी की परीक्षा साल में 1 बार ही कराने का निर्णय लिया गया है।  

Todays Beets: