Wednesday, July 17, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

बेरोजगारों के लिए अमरिंदर सरकार ने खोला बंपर भर्तियों का पिटारा, CM के आदेश के बाद 1 लाख पदों पर भर्ती की तैयारी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बेरोजगारों के लिए अमरिंदर सरकार ने खोला बंपर भर्तियों का पिटारा, CM के आदेश के बाद 1 लाख पदों पर भर्ती की तैयारी

चंडीगढ़ । केंद्र की मोदी सरकार पर लोगों को रोजगार नहीं देने का आरोप लगाने वाली कांग्रेस अब अपने स्तर पर बेरोजगारों को राहत देने की जुगत में जुटी है। इस सब के बीच खबर है कि पंजाब सरकार राज्य में बेरोजगारी से परेशान युवाओं के लिए बंपर नौकरियों का पिटारा खोलने जा रही है। सरकारी बयान में आधिकारिक प्रवक्ता का कहना है कि सरकार ने अलग अलग विभागों में लंबित करीब 1 लाख पदों पर भर्तियां शुरू करने जा रही है। इस भर्ती के जरिए शिक्षा विभाग , चिकित्सा , स्वास्थ और शोध जैसे विभागों में खाली पड़े पदों को भरा जाएगा। खुद राज्य के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एक बयान में कहा कि पहले इन विभागों में खाली पड़े पदों को भरा जाएगा, इसके बाद अन्य विभागों में खाली पड़े पदों को भरने की कवायद की जाएगी।

भर्ती की योजना बनाने के निर्देश

बता दें कि सीएम अमरिंदर सिंह ने मुख्य सचिव करण अवतार सिंह को निर्देश दिए हैं कि वह सरकारी विभागों में खाली पड़े पदों को भरने के लिए आवश्यक योजना बनाएं। भर्ती की रूपरेखा तैयार करने के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ बैठकों का दौर शुरू किया जाए। 


घर-घर रोजगार योजना पर चर्चा

असल में सीएम ने हाल में प्रदेश सरकार की घर-घर रोजगार और कारोबार मिशन स्कीम की प्रगति जानने के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई थी। इस बैठक में सीएम ने मुख्य सचिव को उपरोक्त निर्देश दिए। इस दौरान सीएम ने अपनी योजना के तहत 5 करोड़ रुपये का फंड तत्काल जारी करने के लिए भी कहा। इस दौरान सीएम ने प्रदेश में बेरोजगारी को दूर करने के लिए अर्ध कुशल और अकुशल लोगों को प्रशिक्षण देने की योजना पर बी चर्चा की।

Todays Beets: