Friday, April 23, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

बेरोजगारों के लिए अमरिंदर सरकार ने खोला बंपर भर्तियों का पिटारा, CM के आदेश के बाद 1 लाख पदों पर भर्ती की तैयारी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
बेरोजगारों के लिए अमरिंदर सरकार ने खोला बंपर भर्तियों का पिटारा, CM के आदेश के बाद 1 लाख पदों पर भर्ती की तैयारी

चंडीगढ़ । केंद्र की मोदी सरकार पर लोगों को रोजगार नहीं देने का आरोप लगाने वाली कांग्रेस अब अपने स्तर पर बेरोजगारों को राहत देने की जुगत में जुटी है। इस सब के बीच खबर है कि पंजाब सरकार राज्य में बेरोजगारी से परेशान युवाओं के लिए बंपर नौकरियों का पिटारा खोलने जा रही है। सरकारी बयान में आधिकारिक प्रवक्ता का कहना है कि सरकार ने अलग अलग विभागों में लंबित करीब 1 लाख पदों पर भर्तियां शुरू करने जा रही है। इस भर्ती के जरिए शिक्षा विभाग , चिकित्सा , स्वास्थ और शोध जैसे विभागों में खाली पड़े पदों को भरा जाएगा। खुद राज्य के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एक बयान में कहा कि पहले इन विभागों में खाली पड़े पदों को भरा जाएगा, इसके बाद अन्य विभागों में खाली पड़े पदों को भरने की कवायद की जाएगी।

भर्ती की योजना बनाने के निर्देश

बता दें कि सीएम अमरिंदर सिंह ने मुख्य सचिव करण अवतार सिंह को निर्देश दिए हैं कि वह सरकारी विभागों में खाली पड़े पदों को भरने के लिए आवश्यक योजना बनाएं। भर्ती की रूपरेखा तैयार करने के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ बैठकों का दौर शुरू किया जाए। 


घर-घर रोजगार योजना पर चर्चा

असल में सीएम ने हाल में प्रदेश सरकार की घर-घर रोजगार और कारोबार मिशन स्कीम की प्रगति जानने के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई थी। इस बैठक में सीएम ने मुख्य सचिव को उपरोक्त निर्देश दिए। इस दौरान सीएम ने अपनी योजना के तहत 5 करोड़ रुपये का फंड तत्काल जारी करने के लिए भी कहा। इस दौरान सीएम ने प्रदेश में बेरोजगारी को दूर करने के लिए अर्ध कुशल और अकुशल लोगों को प्रशिक्षण देने की योजना पर बी चर्चा की।

Todays Beets: