Thursday, November 23, 2017

प्रदेश में धूमधाम से शुरू हुई उमा देवी की देवरा यात्रा, छह महीने तक चलेगी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
प्रदेश में धूमधाम से शुरू हुई उमा देवी की देवरा यात्रा, छह महीने तक चलेगी

चमोली

प्रदेश में कई धार्मिक स्थल हैं उनकी अपनी अलग अहमियत है। चमोली के कर्णप्रयाग में स्थित मां उमा देवी का मंदिर भी उन्हीं में से एक है। यहां से निकाली जाने वाली देवरा यात्रा की शुरुआत मंगलवार से हो गई है। ये यात्रा बारह वर्ष में एक बार निकाली जाती है। इस बार की यात्रा में हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने हिस्सा लिया और पूजा-अर्चना कर मन्नतें मांगी। 

माता ने मांगी मन्नत

गौरतलब है कि कर्णप्रयाग स्थित अलकनंदा एवं पिंडर नदी के सगंम पर स्थित है मां उमा देवी का मंदिर। ऐसी मान्यता है कि मां नंदा पार्वती ने भगवान शिव को पति रूप में पाने के लिए इसी स्थान पर तप किया था। ये भी कहा जाता है कि इसी स्थान पर उन्हें उमा के नाम जाना गया।

ये भी पढ़ें- बद्रीनाथ धाम के कपाट 16 नवंबर से श्रद्धालुओं के लिए होंगे बंद, केदार नाथ और यमुनोत्री के भी हुए बंद


 

देवी का एक मात्र मंदिर

जानकारों का ऐसा मानना है कि सम्पूर्ण भारत में एक यही स्थान है जहां मां पार्वती यानि उमा देवी का मंदिर है। मां उमा देवी की देवरा यात्रा हर बारह सालों में एक बार निकलती है और यह छह महीने तक चलती है।

छह महीने चलेगी यात्रा

मां उमा देवी की इस देवरा यात्रा में शामिल होने के लिए माता के भक्त भारी संख्या में उनके दर्शन के लिए मंदिर पहुंच रहे हैं। मंगलवार की सुबह से ही पूजा अर्चना व गंगा स्नान के बाद मां उमा की डोली गर्भ गृह से बाहर श्रद्धालुओं को दर्शनों देने के लिए निकली है। यह यात्रा छः माह तक विभिन्न पड़ावों में भ्रमण करेगी। इसके बाद दोबारा उन्हें मंदिर में स्थापित कर दिया जाएगा। 

devra yatra   devotee   temple   uma   devi   goddess    chamoli   tourism   

Todays Beets: