Tuesday, April 16, 2024

Holika Dahan 2023 : होलिका की राख आपके घर परिवार के कष्ट कर सकती है दूर,  बस करना होगा इतना काम

अंग्वाल न्यूज डेस्क
Holika Dahan 2023 : होलिका की राख आपके घर परिवार के कष्ट कर सकती है दूर,  बस करना होगा इतना काम

न्यूज डेस्क । Holika Dahan 2022 । रंगों का त्योहार होली आगामी 8 मार्च को देश के कई राज्यों में मनाया जाएगा। फाल्गुन मास की पूर्णिमा के दिन होलिका दहन का पर्व मनाया जाता है। इस दिन शाम के समय होलिका दहन किया जाता है। होलिका दहन के दिन विधि-विधान से पूजा का बहुत महत्व है।  असल में होलिका दहन को बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक माना जाता है। ऐसी मान्यता है कि होलिका दहन करने से आसपास की नकारात्मक शक्तियां नष्ट होती हैं ।  साथ ही होलिका दहन की राख को भी काफी लाभकारी बताया जाता है। कहा जाता है कि इसकी राख से जुड़े कुछ उपाय करने से सारे कष्ट दूर हो जाते हैं। जीवन में खुशहाली और समृद्धि आती है। तो चलिए आपको बताते हैं कि आखिर होलिका दहन की राख आपके लिए कितनी फलदायी साबित हो सकती है । 

- ऐसा कहा जाता है कि अगर आपके घर की सुख-शांति भंग हो गई है , तो होलिका दहन के अगले दिन प्रात: काल थोड़ी सी राख को घर के हर कोने में छिड़क दें । ये उपाय सुबह ही करें, कोई देख न पाए ।मान्यता है इससे गृहक्लेश दूर होते हैं । इतना ही नहीं इससे आपसी सामंजस बना रहता है । 

- इसी क्रम में यदि कोई जातक आर्थिक तंगी से परेशान हैं, तो इसे दूर करने के लिए होलिका की राख को लाल रंग के कपड़े में बांधकर तिजोरी में रखें । इतना ही नहीं छोटी सी पोटली बनाकर अपने पर्स में भी रख सकते हैं। माना जाता है कि इससे आर्थिक स्थिति बेहतर होती है। 

- यदि आप पर या घर पर किसी भी तरह की नकारात्मक ऊर्जा हावी है, तो होलिका की राख को ताबीज में बांधकर पहनने से बुरी आत्माओं का साया नहीं रहता है। साथ ही किसी भी तरह के टोने-टोटके का असर भी नहीं होता।

- इसी क्रम में अगर कोई जातक राहु- केतु की पीड़ा से परेशान हैं या फिर शनि की महादशा के कारण काम बिगड़ रहे हैं तो एक मुठ्‌ठी होलिका की राख को शिवलिंग पर चढ़ा दें । कहते इससे वैवाहिक जीवन में खुशहाली आती है । व्यापार-नौकरी में आ रही बाधा का नाश होता है । 


- ऐसी भी मान्यता है कि होलिका दहन की राख को तांबे के सात छेद वाले सिक्के के साथ एक लाल कपड़े में बांधकर तिजोरी में रख दें । इससे बरकत आती है । 

- कहते हैं कि जो लोग आए दिन बीमार रहते हैं वह माह तक यानी अगली पूर्णिमा तक रोजाना माथे पर होलिका की राख का टीका लगाएं ।  इससे जल्द असर दिखना शुरू हो जाएगा । 

- इसी क्रम में नवग्रहों के दुष्प्रभाव से बचने के लिए होलिका की इस राख को नहाने के पानी में मिलाकर स्नान करना चाहिए । इससे मानसिक, आर्थिक, शारीरिक तौर पर फायदा होता है । 

- होलिका दहन की राख की इस पोटली को दुकान के मुख्य द्वार पर लटकाने से टोने टोटके का असर नहीं होता ।

Todays Beets: