Tuesday, January 23, 2018

Breaking News

   98 साल की उम्र में MA करने वाले राज कुमार का संदेश, कहा-हमेशा कोशिश करते रहें     ||   मुंबई स्टॉक एक्सचेंज ने पार किया 34000 का आंकड़ा, ऑफिस में जश्न का माहौल     ||   पं. बंगाल: मालदा से 2 लाख रुपये के फर्जी नोट बरामद, एक गिरफ्तार    ||   सेक्स रैकेट का भंड़ाभोड़: दिल्ली की लेडी डॉन सोनू पंजाबन अरेस्ट    ||   रूपाणी कैबिनेट: पाटीदारों का दबदबा, 1 महिला को भी मंत्रिमंडल में मिली जगह    ||   पशु तस्करों और पुलिस में मुठभेड़, जवाबी गोलीबारी में एक मरा, घायल गायें बरामद    ||   RTI में खुलासा- भगत सिंह-राजगुरु-सुखदेव को अब तक नहीं मिला शहीद का दर्जा, सरकारी किताब में बताया गया 'आतंकी'     ||    गुजरात चुनाव: रैली में बोले BJP नेता- दाढ़ी-टोपी वालों को कम करना पड़ेगा, डराने आया हूं ताकि वो आंख न उठा सकें    ||   मध्य प्रदेश: बाबरी विध्वंस पर जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, भड़क गई हिंसा    ||   बैंक अकाउंट को आधार से जोड़ने की तारीख बढ़ी, जानिए क्या है नई तारीख    ||

मासंपेशियों के प्रोटीन से दूर की जा सकती है इनसोमिनिया की बीमारी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मासंपेशियों के प्रोटीन से दूर की जा सकती है इनसोमिनिया की बीमारी

अमेरिका। अमूमन सबका मानना है कि नींद से जुड़े सभी विकार हमारे दिमाग में होते हैं, लेकिन हाल ही में हुए शोध में पाया गया है कि मांसपेशियों में प्रोटीन से इनसोमिनिया का इलाज संभव किया जा सकता है। अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास के न्यूरोसाइंस विभाग के अध्यक्ष जोसेफ ताकाशाही ने बताया कि यह बहुत ही चौंका देने वाला खुलासा है। यह शोध नींद से संबंधित हुए शोध की दिशा बदलने वाला है। अध्यक्ष जोसेफ ने बताया कि चूहों पर किए गए इस अध्ययन में पाया गया है कि इस प्रोटीन की मस्तिष्क में उपस्थिति या अनुपस्थिति का नींद की बीमारी पर बहुत कम प्रभाव पड़ा है, लेकिन जब चूहों की मांसपेशियों में बीएमएएल-1 प्रोटीन की ज्यादा मात्रा मिलाई चतो वे इनसोमिनिया यानी नींद न आने की बीमारी से तेजी से उबर सके। 


साथ ही उन्होंने बताया कि मांसपेशियों में इस प्रोटीन की उपस्थिति से मस्तिष्क को एक संदेश जाता है, जो नींद को प्रभावित करता है। शोध के मनुष्य पर लागू किया तो संभव ही नींद से जुड़ी बीमारियों के उपचार का नया तरीका खोजा जा सकेगा। 

Todays Beets: