Monday, September 25, 2017

Breaking News

   जम्मू कश्मीर के नौगाम में लश्कर कमांडर अबू इस्माइल के साथ मुठभेड़,     ||   राम रहीम मामले पर गौतम का गंभीर प्रहार, कहा- धार्मिक मार्केटिंग का यह एक क्लासिक उदाहरण    ||   ट्राई ने ओवरचार्जिंग के लिए आइडिया पर लगाया 2.9 करोड़ का जुर्माना    ||   मदरसों का 15 अगस्त को ही वीडियोग्राफी क्यों? याचिका दायर, सुनवाई अगले सप्ताह    ||   पंचकूला से लंदन तक दिखा राम-रहीम विवाद का असर, ब्रिटेन ने जारी की एडवाइजरी    ||   PAK कोर्ट ने हिंदू लड़की को मुस्लिम पति के साथ रहने की मंजूरी दी    ||   बिहार आए पीएम मोदी, बाढ़ से हुई तबाही की गहन समीक्षा की    ||   जेल में ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राम रहीम को सुनाई जाएगी सजा    ||   मच्छल में घुसपैठ नाकाम, पांच आतंकी ढेर, भारी मात्रा में गोलाबारूद बरामद    ||   जापान के बाद अब अमेरिका के साथ युद्धाभ्यास की तैयारी में भारत    ||

मासंपेशियों के प्रोटीन से दूर की जा सकती है इनसोमिनिया की बीमारी

अंग्वाल न्यूज डेस्क
मासंपेशियों के प्रोटीन से दूर की जा सकती है इनसोमिनिया की बीमारी

अमेरिका। अमूमन सबका मानना है कि नींद से जुड़े सभी विकार हमारे दिमाग में होते हैं, लेकिन हाल ही में हुए शोध में पाया गया है कि मांसपेशियों में प्रोटीन से इनसोमिनिया का इलाज संभव किया जा सकता है। अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सास के न्यूरोसाइंस विभाग के अध्यक्ष जोसेफ ताकाशाही ने बताया कि यह बहुत ही चौंका देने वाला खुलासा है। यह शोध नींद से संबंधित हुए शोध की दिशा बदलने वाला है। अध्यक्ष जोसेफ ने बताया कि चूहों पर किए गए इस अध्ययन में पाया गया है कि इस प्रोटीन की मस्तिष्क में उपस्थिति या अनुपस्थिति का नींद की बीमारी पर बहुत कम प्रभाव पड़ा है, लेकिन जब चूहों की मांसपेशियों में बीएमएएल-1 प्रोटीन की ज्यादा मात्रा मिलाई चतो वे इनसोमिनिया यानी नींद न आने की बीमारी से तेजी से उबर सके। 


साथ ही उन्होंने बताया कि मांसपेशियों में इस प्रोटीन की उपस्थिति से मस्तिष्क को एक संदेश जाता है, जो नींद को प्रभावित करता है। शोध के मनुष्य पर लागू किया तो संभव ही नींद से जुड़ी बीमारियों के उपचार का नया तरीका खोजा जा सकेगा। 

Todays Beets: