Sunday, July 22, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

केले का छिलका भी है कमाल का इस्तेमाल करें और दांतों को बनाएं चमकदार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
केले का छिलका भी है कमाल का इस्तेमाल करें और दांतों को बनाएं चमकदार

नई दिल्ली। प्रकृति ने हमें कई ऐसे फल दिए हैं जिसे खाने से शरीर में मजबूती तो आती ही है और उसके छिलके से भी आपको कई फायदे हो सकते हैं। जी हां, हम बात कर रहे हैं हर मौसम में मिलने वाले फल केले की। केला खाकर आप शरीर को मजबूत कीजिए और छिलके से अपने दांतों को चमकदार बनाएं।  आइए हम आपको बताते हैं कि केले के छिलके का किस तरह से उपयोग कर दांतों को चमकाया जा सकता है।

 

-आपको बता दें कि केले के छिलके कार्बोहाइड्रेट, एंटी-आॅक्सीडेंट्स और फाइवर के भी अच्छे श्रोत होते हैं, इसलिए जब आप केले के छिलके को अपने दांतों पर रगड़ते हैं, तो इसके प्रभावी खनिज पदार्थ आपके दांतों द्वारा अवशोषित कर लिए जाते हैं, जिससे दांत मजबूत और चमकदार बनते हैं।

 


-केले में मौजूद एंटी-आॅक्सीडेंट बढ़ती उम्र के कारण दांतों को हो रहे नुकसान को ठीक करने में मदद करते हैं। केले के छिलके एक प्रकार से प्राकृतिक और साफ टूथपेस्ट की तरह हैं, जिनका उपयोग आप दांतों की सफाई करने के लिए कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें - रोजाना सुबह खाएं किशमिश और पाएं कई तरह की बीमारियों से निजात

-केले के छिलके को फेंकने की बजाय आप इसका कई तरह से उपयोग कर सकते हैं। जानवरों को खिलाने के अलावा छिलकों के सूखने के बाद इसका पाउडर बनाकर खाद के रूप में भी इसका उपयोग किया जा सकता है। इस पाउडर को महीने में एक बार पौधों पर छिड़क सकते हैं। इस तरह से कहा जा सकता है कि ‘आम के आम गुठलियों के दाम’।

Todays Beets: