Sunday, October 21, 2018

Breaking News

   सेना हर चुनौती से न‍िपटने के ल‍िए तैयार, सर्जिकल स्ट्राइक भी व‍िकल्‍प: रणबीर सिंह    ||   BJP विधायक मानवेंद्र ने बदला पाला, राज्यवर्धन बोले- कांग्रेस ने 70 साल में मंत्री नहीं बनाया    ||   सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश पर छिड़ी जंग, हिरासत में 30 प्रदर्शनकारी    ||   विवेक तिवारी हत्याकांडः HC की लखनऊ बेंच ने CBI जांच की मांग ठुकराई    ||   केरलः अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद ने सबरीमाला फैसले के खिलाफ HC में लगाई याचिका    ||   कोलकाताः HC ने दुर्गा पूजा आयोजकों को ममता के 28 करोड़ देने के फैसले पर रोक लगाई    ||    रूस के साथ S-400 एयर डिफेंस मिसाइल पर भारत की डील    ||   नार्वेः राजधानी ओस्लो में आज होगा शांति के नोबेल पुरस्कार का ऐलान    ||   अंकित सक्सेना मर्डर केसः ट्रायल के लिए अभियोगपक्ष के 2 वकीलों की नियुक्ति    ||   जम्मू कश्मीर में नेशनल कॉफ्रेंस के दो कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या, मरने वालों में एक MLA का पीए भी     ||

केले का छिलका भी है कमाल का इस्तेमाल करें और दांतों को बनाएं चमकदार

अंग्वाल न्यूज डेस्क
केले का छिलका भी है कमाल का इस्तेमाल करें और दांतों को बनाएं चमकदार

नई दिल्ली। प्रकृति ने हमें कई ऐसे फल दिए हैं जिसे खाने से शरीर में मजबूती तो आती ही है और उसके छिलके से भी आपको कई फायदे हो सकते हैं। जी हां, हम बात कर रहे हैं हर मौसम में मिलने वाले फल केले की। केला खाकर आप शरीर को मजबूत कीजिए और छिलके से अपने दांतों को चमकदार बनाएं।  आइए हम आपको बताते हैं कि केले के छिलके का किस तरह से उपयोग कर दांतों को चमकाया जा सकता है।

 

-आपको बता दें कि केले के छिलके कार्बोहाइड्रेट, एंटी-आॅक्सीडेंट्स और फाइवर के भी अच्छे श्रोत होते हैं, इसलिए जब आप केले के छिलके को अपने दांतों पर रगड़ते हैं, तो इसके प्रभावी खनिज पदार्थ आपके दांतों द्वारा अवशोषित कर लिए जाते हैं, जिससे दांत मजबूत और चमकदार बनते हैं।

 


-केले में मौजूद एंटी-आॅक्सीडेंट बढ़ती उम्र के कारण दांतों को हो रहे नुकसान को ठीक करने में मदद करते हैं। केले के छिलके एक प्रकार से प्राकृतिक और साफ टूथपेस्ट की तरह हैं, जिनका उपयोग आप दांतों की सफाई करने के लिए कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें - रोजाना सुबह खाएं किशमिश और पाएं कई तरह की बीमारियों से निजात

-केले के छिलके को फेंकने की बजाय आप इसका कई तरह से उपयोग कर सकते हैं। जानवरों को खिलाने के अलावा छिलकों के सूखने के बाद इसका पाउडर बनाकर खाद के रूप में भी इसका उपयोग किया जा सकता है। इस पाउडर को महीने में एक बार पौधों पर छिड़क सकते हैं। इस तरह से कहा जा सकता है कि ‘आम के आम गुठलियों के दाम’।

Todays Beets: