Wednesday, August 15, 2018

Breaking News

   मंगल ग्रह पर आशियाना बनाएगा इंसान, वैज्ञानिकों को मिली पानी की सबसे बड़ी झील     ||   भाजपा नेता का अटपटा ज्ञान, 'मृत्युशैया पर हुमायूं ने बाबर से कहा था, गायों का सम्मान करो'     ||   आज से एक हुए IDEA-वोडाफोन! अब बनेगी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी     ||   गोवा में बड़ी संख्‍या में लोग बीफ खाते हैं, आप उन्‍हें नहीं रोक सकते: बीजेपी विधायक     ||   चीन फिर चल रहा 'चाल', डोकलाम में चुपचाप फिर शुरू कीं गतिविधियां : अमेरिकी अधिकारी     ||   नीरव मोदी, चोकसी के खिलाफ बड़ा एक्शन, 25-26 सितंबर को कोर्ट में पेश होने के आदेश     ||   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||

सरकारी नीतियों पर कांग्रेस हुई हमलावर, राज्यपाल से की बर्खास्त करने की मांग

अंग्वाल न्यूज डेस्क
सरकारी नीतियों पर कांग्रेस हुई हमलावर, राज्यपाल से की बर्खास्त करने की मांग

देहरादून। राज्य सरकार द्वारा लागू की गई आबकारी नीति का कांग्रेस ने जमकर विरोध किया है। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने मंगलवार को सरकार पर आरोप लगाया कि यह जीरो टाॅलरेंस की नहीं बल्कि ‘अंडर टेबल’ सरकार है। उन्होंने राज्यपाल से सरकार को बर्खास्त करने की मांग की है। प्रीतम सिंह ने कहा कि प्रदेश की कानून व्यवस्था चैपट हो चुकी है। खुले आम बैंक-पेट्रोल पम्प लूटे जा रहे हैं। आबकारी नीति माफिया को लाभ पहुंचाने के लिए बार-बार बदली जा रही है। 

ये भी पढ़ें - पीसीएस परीक्षा की तैयारी करने वालों को ‘सी-सैट’ करना होगा क्वालिफाई, सरकार की मंजूरी का इंतजार

गौरतलब है कि प्रीतम सिंह ने सरकार पर आरोप लगाया कि सत्ता में आने के बाद से माफिया को फायदा देने के लिए सरकार के द्वारा लगातार नियम बदली जा रही है। यही हाल खनन नीति का भी है मेडिकल फीस मामले में सरकार ने निजी विश्वविद्यालयों को फीस तय करने का अधिकार दे दिया। छात्रों द्वारा आंदोलन पर उतरने के बाद अब सरकार ने उसे खुद से तय करने का निर्णय लिया है। 


यहां बता दें कि प्रीतम सिंह ने आरोप लगाते हुए कहा कि छात्रों के दवाब में फीस बढ़ोतरी का निर्णय वापस तो ले लिया लेकिन विधान सभा में पारित किए गए विधेयक को समाप्त करने के लिए अध्यादेश तक नहीं लाया गया है। सरकार द्वारा फैसले ले लिए जाते हैं फिर उसे रोलबैक किया जाता है। यह भी संवैधानिक संकट की स्थिति से कम नहीं है। प्रीतम सिंह ने कहा कि सरकार खुद को जीरो टाॅलरेंस वाली सरकार बताते हुए नहीं थकती है लेकिन यहां बिलकुल इसका उल्टा हो रहा है। ऐसे में कांग्रेस ने राज्यपाल से सरकार को जल्द बर्खास्त करने की मांग की है।  

Todays Beets: