Friday, April 23, 2021

Breaking News

   कोरोनाः यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को लगाई गई वैक्सीन     ||   महाराष्ट्रः वसूली केस की होगी सीबीआई जांच, फडणवीस बोले- अनिल देशमुख दें इस्तीफा     ||   ड्रग्स केस में गिरफ्तार अभिनेता एजाज खान कोरोना पॉजिटिव, NCB टीम का भी होगा टेस्ट     ||   मथुराः लेफ्टिनेंट जनरल मनोज कुमार कटियार बने वन स्ट्राइक कोर के कमांडर     ||   कर्नाटकः भ्रष्टाचार के मामले की जांच पर स्टे, सीएम येदियुरप्पा को SC ने दी राहत     ||   छत्तीसगढ़ः नक्सल के खिलाफ लड़ाई अब निर्णायक चरण में, हमारी जीत निश्चित है- अमित शाह     ||   यूपीः पंचायत चुनाव में 5 से अधिक लोगों के साथ प्रचार करने पर रोक, कोरोना के कारण फैसला     ||   स्विटजरलैंड में चेहरा ढकने पर लगाई गई पाबंदी , मुस्लिम संगठनों ने जताई आपत्ति     ||   सिंघु बॉर्डर के नजदीक अज्ञात लोगों ने रविवार रात की हवाई फायरिंग, पुलिस कर रही छानबीन     ||   जम्मू कश्मीर - प्रोफेसर अब्दुल बरी नाइक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, युवाओं को बरगलाने का आरोप     ||

अब हर साल 2500 नौजवानों को मिलेगा रोजगार, जानें सरकार क्या करने जा रही उपाय

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब हर साल 2500 नौजवानों को मिलेगा रोजगार, जानें सरकार क्या करने जा रही उपाय

शिमला। हिमाचल प्रदेश सरकार ने राज्य के शिक्षा को रोजगारपरक बनाने की कवायद शुरू कर दी है। इसके तहत राज्य के 10 डिग्री काॅलेजों में दक्षता एवं उत्कृष्ट केंद्र स्थापित किए जाएंगे। इन केंद्रों के जरिए हर साल 2500 छात्रों को रोजगार उपलब्ध करवाया जाएगा। इन केंद्रों के माध्यम से बड़ी कंपनियों में विद्यार्थियों को प्लेसमेंट दिलाई जाएगी। कैबिनेट बैठक में शिक्षा विभाग के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है। युवाओें को निजी क्षेत्र में नौकरियों की संभावनाओं की राह दिखाने के लिए केंद्र खोलने का फैसला लिया गया है।

गौरतलब है कि इन केंद्रों के जरिए युवाओं को निजी क्षेत्रों में रोजगार की राह दिखाई जाएगी। यहां छात्रों का कैरियर काउंसलिंग भी किया जाएगा। इसके बाद छात्रांे को आईडी के साथ रजिस्टर करने के बाद उनकी पसंद के क्षेत्र वाली कंपनियों में प्रशिक्षण के लिए भेजा जाएगा। इसके साथ ही कंपनियों के बड़े अधिकारियों को काॅलेज में बुलाकर छात्रों को देश और विदेशों में सफल होने के गुर भी बताए जाएंगे। 

ये भी पढ़ें -  सरकार ने यूजीसी एक्ट में बदलाव कर छात्रों को दी राहत, अब शिक्षण संस्थान नहीं रख सकेंगे मूल प...


यहां बता दें कि प्रदेश सरकार अपने दृष्टिपत्र में किए गए वादों को पूरा करने के क्रम में यह कदम उठाया है। गौर करने वाली बात है कि इस योजना के तहत 2500 नौजवानों को रोजगार दिलाने के साथ ही करीब 500 से ज्यादा नौजवानों को स्वरोजगार के लिए प्रेरित किया जाएगा। उत्कृष्ट एवं दक्षता केंद्रों को कोटशेरा, नालागढ़, पावंटा साहिब, नादौन, धर्मशाला, मंडी, ऊना, बिलासपुर, संजौली और सोलन कॉलेज में खोला जाएगा। मंत्रिमंडल ने राज्य लोकसेवा आयोग के माध्यम से प्रदेश के डिग्री कॉलेजों में 25 प्रिंसिपलों की सीधी भर्ती करने का फैसला भी लिया है। इसके अलावा प्रिंसिपलों के अन्य पद पदोन्नति से भरे जाएंगे।

गौर करने वाली बात है कि राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान (रूसा) के तहत उच्च शिक्षा में गुणात्मकता लाने के लिए प्रदेश में हायर एजूकेशन काउंसिल गठित किया जाएगा। मंत्रिमंडल की बैठक में काउंसिल गठित करने को मंजूरी दी गई है। खबरों के अनुसार शीतकालीन सत्र में हायर एजूकेशन काउंसिल बिल को पेश किया जा सकता है। 

Todays Beets: