Monday, July 22, 2019

Breaking News

   सूरत: सभी मोदी चोर कहने का मामला, 10 अक्टूबर को हो सकती है राहुल गांधी की पेशी     ||   मुंबई: इमारत गिरने पर बोले MIM नेता वारिस पठान- यह हादसा नहीं, हत्या है     ||   नीरज शेखर के इस्तीफे पर बोले रामगोपाल यादव- गुरु होने के नाते आशीर्वाद दे सकता हूं     ||   लखनऊ: खनन घोटाले में ED ने पूर्व खनन मंत्री गायत्री प्रजापति से पूछताछ की     ||   पोंजी घोटाला: पूछताछ के बाद बोले रोशन बेग- हज पर नहीं जा रहा, जांच में करूंगा सहयोग    ||    संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने कहा- जरूरत पड़ी तो सत्र बढ़ाया जा सकता है     ||   केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया- सुप्रीम कोर्ट में जजों की कमी नहीं    ||    AAP नेता इमरान हुसैन ने बीजेपी नेता विजय गोयल और मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ की शिकायत    ||   राहुल गांधी के इस्तीफे पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा- जय श्रीराम    ||   यूपी सरकार का 17 जातियों को SC की लिस्ट में डालने का फैसला असंवैधानिक: थावर चंद गहलोत    ||

अब इग्नू का प्रश्नपत्र व्हाट्सपएप पर हुआ लीक, जांच में जुटी पुलिस

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अब इग्नू का प्रश्नपत्र व्हाट्सपएप पर हुआ लीक, जांच में जुटी पुलिस

नई दिल्ली। सीबीएसई की 10वीं और 12वीं के प्रश्नपत्र के सोशल मीडिया में लीक होने के बाद अब इग्नू में बीसीए प्रोग्रामिंग इन सी प्लस के प्रश्नपत्रों के व्हाट्सएप पर लीक होने का मामला सामने आया है। खबरों के अनुसार यह पेपर 5 दिसंबर को हुआ था लेकिन परीक्षा शुरू होते की लीक हो गया और कई व्हाट्सएप ग्रुप पर प्रसारित हो गया। पेपर एक ग्रुप से जुड़े इग्नू अधिकारी तक भी पहुंच गया था। प्रश्नपत्र के लीक होते ही इसकी सूचना आला अधिकारियों को दी गई। अधिकारियों के द्वारा परीक्षा केंद्रों का दौरा करने के बाद शनिवार को पुलिस को इस मामले की जानकारी दी गई है। डाबरी थाना पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है। अब इग्नू प्रशासन इस परीक्षा को रद्द करने की प्रक्रिया में जुटा हुआ है। 

गौरतलब है कि डीसीपी ने प्रश्नपत्र के लीक होने की खबर की पुष्टि करते हुए कहा कि इग्नू के अधिकारियों द्वारा की गई शिकायत के बाद मामला दर्ज कर इसकी जांच शुरू कर दी गई है। दोषियों की तलाश की जा रही है पता लगते ही कड़ी कार्रवाई की जाएगी। 


ये भी पढ़ें - देश में अब नहीं रहेंगे बेरोजगार, सरकार ने इंटर्नशिप व कैंपस प्लेसमेंट नीति को दी मंजूरी

यहां बता दें कि 5 दिसंबर को इग्नू की परीक्षा थी। इग्नू की ओर से निरीक्षक विजय पाल की ड्यूटी द्वारका सेक्टर-3 स्थित परीक्षा केंद्र पर लगाई गई थी। दूसरे सत्र में परीक्षा शुरू होने के कुछ ही मिनट पहले विजय पाल ने इग्नू के अधिकारियों को फोन कर बताया कि यहां छात्रों के पास व्हाट्सएप पेपर मौजूद है। इस सूचना के बाद रजिस्ट्रार ने अधिकारियों को अलग-अलग परीक्षा केंद्रों पर भेजा। जांच में पाया गया कि परीक्षा केंद्रों पर कुछ परीक्षार्थियों के पास व्हाट्सएप पर प्रश्नपत्र मौजूद थे। ये सभी परीक्षार्थी एक ही ग्रुप से जुड़े हुए थे। पुलिस द्वारा ग्रुप से जुड़े लोगों से पूछताछ में बताया कि जिस ग्रुप से यह प्रश्नपत्र आया था वह एक निजी संस्थन का है जो उत्तमनगर इलाके में स्थित है। फिलहाल पुलिस इसकी जांच कर रही है। 

Todays Beets: