Tuesday, February 19, 2019

Breaking News

   महाराष्ट्रः ईस्ट इंडिया कंपनी द्वारा चलाई गई शकुंतला नैरो गेज ट्रेन में लगी आग     ||   केरलः दक्षिण पश्चिम तट से अवैध तरीके से भारत में घुसते 3 लोग गिरफ्तार     ||   ताबड़तोड़ एनकाउंटर पर योगी सरकार को SC का नोटिस, CJI बोले- विस्तृत सुनवाई की जरूरत     ||   तेहरान में बोइंग 707 किर्गिज कार्गो प्लेन क्रैश, 10 क्रू मेंबर की मौत     ||   PM मोदी बोले- जवानों के बाद किसानों की आंखों में धूल झोंक रही कांग्रेस     ||   PM मोदी बोले- हम ईमानदारी से कोशिश करते हैं, झूठे सपने नहीं दिखाते     ||   कुशल भ्रष्टाचार और अक्षम प्रशासन का मॉडल है कांग्रेस-कम्युन‍िस्ट सरकार-PM मोदी     ||   CBI: राकेश अस्थाना केस में द‍िल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई 20 द‍िसंबर तक टली     ||   बैडम‍िंटन खि‍लाड़ी साइना नेहवाल ने पी कश्यप से की शादी     ||   गुलाम नबी आजाद ने जीवन भर कांग्रेस की गुलामी की है: ओवैसी     ||

अखनूर में सुरक्षा का जायजा लेंगे रावत, आतंकवादियों से निपटने का मंत्र देंगे सैन्य अधिकारियों को  

अंग्वाल न्यूज डेस्क
अखनूर में सुरक्षा का जायजा लेंगे रावत, आतंकवादियों से निपटने का मंत्र देंगे सैन्य अधिकारियों को
 

 नई दिल्ली। सेना प्रमुख जनरल बिपिल रावत शनिवार को जम्मू-कश्मीर के अखनूर का दौरा करेंगे। जम्मू-कश्मीर में बढ़ती आतंकवादी घटनाओं के मद्देनजर रावत के दौरे को काफी अहम माना जा रहा है। रावत आतंकवाद से निपटने के लिए सेना के अफसरों को मंत्र देंगे। बीते कुछ दिनों से जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी घाटनाओं में वृद्धि देखी जा रही है। आतंकवादियों का मनोबल इतना बढ़ गया है कि सुरक्षाबलों के ठिकानों पर हमला करने में भी संकोच नहीं कर रहे हैं।

जनरल बिपिल रावत जम्मू-कश्मीर के अखनूर में सेना के अधिकारियों और जवानों से मुलकात करके उनका मनोबल बढ़एंगे। रावत सेना के अधिकारियों को आतंकवादियों से निपटने का मंत्र भी देंगे। सर्च आॅपरेशन के दौरान बिना हानि के आतंकवादियों को पकड़ने की बारीकियों को समझाएंगे। सीमा पार से होनेे वाली उकसावे की कार्रवाई पर कैसे माकूल जवाब दिया जाए इस बारे में भी अधिकारियों और जवानों को हिदायत देंगे। रावत के दौरे को लेकर सभी प्रकार की तैयारियां कर ली गई हैं।


गौरतलब है कि पिछले महीने भाजपा-पीडीपी गठबंधन सरकार से भाजपा के समर्थन वापस लेने के बाद सरकार गिर गई। उसके बाद से राज्य में राज्यपाल शासन लागू कर दिया गया है। ऐसे में जम्मू-कश्मीर में सेना की भूमिका और बढ़ गई है। कुछ दिनों से अमरनाथ यात्रा भी चल रही है। ऐसे में बीच-बीच में सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा भी की जाती है। ऐसी उम्मीद है कि रावत राज्य में सुरक्षाबलों के कार्यों के बारे में भी अधिकारियों से फीडबैक लेंगे।        

Todays Beets: