Friday, July 20, 2018

Breaking News

   जापान में फ़्लैश फ्लड से 200 लोगों की मौत     ||   देहरादून में जलभराव पर सरकार ने लिया संज्ञान अधिकारियों को दिए निर्देश     ||   भारत ने टॉस जीता फील्डिंग करने का फैसला     ||   उपेन्द्र राय मनी लाउंड्रिंग मामले में सीबीआई ने 2 अधिकारियों को गिरफ्तार किया     ||   नीतीश का गठबंधन को जवाब कहा गठबंधन सिर्फ बिहार में है बाहर नहीं     ||   जापान में बारिश का कहर जारी 100 से ज्यादा लोगों की मौत     ||   PM मोदी के नोएडा दौरे से पहले लगा भारी जाम, पढ़ें पूरी ट्रैफिक एडवाइजरी     ||    नीतीश ने दिए संकेत: केवल बिहार में है भाजपा और जदयू का गठबंधन, राष्ट्रीय स्तर पर हम साथ नहीं    ||   निर्भया मामले में तीनों दोषियों को होगी फांसी, सुप्रीम कोर्ट ने याचिका ठुकराई    ||   उत्तर भारत में धूल: चंडीगढ़ में सुबह 11 बजे अंधेरा छाया, 26 उड़ानें रद्द; दिल्ली में भी धूल कायम     ||

डीयू चुनावों में एवीबीपी को करार झटका, एनएसयूआई ने रॉकी बने अध्यक्ष

अंग्वाल संवाददाता
डीयू चुनावों में एवीबीपी को करार झटका, एनएसयूआई ने रॉकी बने अध्यक्ष

नई दिल्ली । जेएनयू के बाद डीयू के छात्रसंघ चुनावों में एक बार फिर एवीबीपी को करार झटका लगा है। डूसुू चुनावों में एनएसयूआई ने एवीबीपी को झटका देते हुए अध्यक्ष समेत दो पदों पर कब्जा कर लिया है। अभी मिली खबरों के अनुसार सचिव पद और संयुक्त सचिव पद पर ही एवीबीपी को जीत हासिल हुई है। इस बाद छात्रों ने डीयू चुनावों में अध्यक्ष पद के लिए रॉकी तुसीद और उपाध्यक्ष पद पर कुनाल शहरावत को चुना है। संयुक्त सचिव पद एनएसयूआई के अविनाश यादव ने जीत दर्ज की है जबकि सचिव पद एवीबीपी के उम्मीदवार को जीत मिली है। 

बता दें कि मतों की गिनती के दौरान दोनों ओर से कड़ा मुकाबला देखने को मिला। शुरुआती राउंड में ABVP ने चारों पदों पर बढ़त बना ली थी लेकिन बाद में NSUI ने बढ़त बनाई। पिछले साल एबीवीपी ने डूसू के सेंट्रल पैनल में 4 में से 3 सीटों पर कब्ज़ा जमाया था, लेकिन इस बार करारा झटका लगा है। इतना ही नहीं बता दें कि पिछले 4 साल से एबीवीपी डूसू पर काबिज थी।  

वहीं एनएसयूआई की जीत पर कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने ट्वी्ट कर प्रत्याशियों को बधाई दी। उन्होंने ट्वीट पर लिखा दिल्ली विश्वविद्यालय चुनावों में बड़ी जीत और अच्छे पुराने दिनों को वापस लाने के लिए टीम एनएसयूआई को बधाई।


Todays Beets: